Breaking News
Top

झारखंडः 230 लोगों ने राष्ट्रपति को पत्र लिखकर मांगी इच्छामृत्यु

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Sep 20 2017 1:53AM IST
झारखंडः 230 लोगों ने राष्ट्रपति को पत्र लिखकर मांगी इच्छामृत्यु

झारखंड के धनबाद जिले के कतरास गांव के 230 लोगों ने एकसाथ राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को पत्र लिखकर इच्छा मृत्यु की मांग की है। 

बता दें कि 1894 से चल रही रेल लाइन को रेल मंत्रालय ने 15 जून 2017 को 34 किमी लंबी धनबाद-चंद्रपुर रेल लाइन को बंद करने का फैसला लिया था। 

धनबाद-चंद्रपुर रेल लाइन को बंद करने के फैसले को लेकर रेल मंत्रालय ने दलील दी है कि रेल लाइन के नीचे कोयले की खदान में आग लगी है जिससे कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है। 

बता दें कि यह एक ऐसी रेल लाइन है जो इस इलाके को एक ओर से राज्य की राजधानी रांची और दूसरी ओर से आदिवासी बहुल संथाल परगाना को जोड़ती है। 

लेकिन इलाके में काम ठप्प होने और जीवन यापन पर मार पड़ने के चलते 230 लोगों ऐसा खत लिखने को मजबूर हो गए हैं। 

वहीं इस पूरे मसले पर झारखंड कांग्रेस प्रभारी आरपीएन सिंह ने रेल मंत्री पीयूष गोयल को पत्र लिखकर बंद पड़े इस रेल लाइन को फिर से चालु करने के लिए विचार करने को कहा। 

गौरतलब है कि इस रेल लाइन से होकर रोजाना 26 जोड़ी ट्रेन 3 लाख यात्रियों और 20 हजार टन कोयले को ले जाती थी। इसके बंद होने से सीधे तौर पर इससे 7 लाख लोग प्रभावति हुए है। 

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo