Hari Bhoomi Logo
सोमवार, सितम्बर 25, 2017  
Breaking News
Top

घाटी में इस आतंकी के जनाजे में न हुई पत्थरबाजी, न हिंसा, सुरक्षा एजेंसी हैरान

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Aug 15 2017 2:56PM IST
घाटी में इस आतंकी के जनाजे में न हुई पत्थरबाजी, न  हिंसा, सुरक्षा एजेंसी हैरान

हिज्बुल मुजाहिदीन कमांडर यासीन के एनकाउंटर के बाद दो बातों का खुलासा हुआ। पहला तो ये कि शोपियां जिले के जिस अवनीरा गांव में यासीन का एनकाउंटर हुआ वहां के लोगों ने ऑपरेशन के समय सुरक्षाबलों पर पत्थरबाजी नहीं की। सूत्रों के मुताबिक यासीन फोन का इस्तेमाल कर लोगों को पत्थरबाजी के लिए उकसा रहा था ताकी फंसे हुए आतंकियों को निकाला जा सके। 

इसे भी पढ़ें:स्वतंत्रता दिवस समारोह से लौट रही लड़की से अधेड़ ने किया दुष्कर्म

यासीन ने लगातार फोन करके लोगों को बुलाने की कोशिशें की। यासीन ने लोगों को सुरक्षाबलों पर पत्थर बरसाने को कहा लेकिन ऐसा कुछ हुआ नहीं। दूसरी दिसचस्प बात जो देखने को मिली की यासीन और उसके दोनों सहयोगियों के जनाजे ले जाते वक्त किसी तरह का विरोध और हिंसा देखने को नहीं मिली जबकि उस दौरान हजारों लोग मौजूद थे।
 
 
तमाम सुरक्षा प्रतिबंधों के बावजूद हजारों लोग यासीन के जनाजे में शामिल होने के लिए बडगाम जिले के चादोरा में इकट्ठा हुए। लोगों ने पाक और कश्मीर की आजादी के समर्थन में नारेबाजी की। हालांकि जब वहां अल-कायदा से जुड़े संगठन अंसार गजवत-उल हिंद का समर्थन करने वाले जाकिर मूसा के समर्थन में नारे लगे तो हिज्बुल के कार्यकर्ताओं ने लोगों को ऐसा करने से रोक दिया। 
 
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
there were no stone pelters present during

-Tags:#yasin encounter#Hizbul Mujahideen
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo