Hari Bhoomi Logo
रविवार, अप्रैल 30, 2017  
Breaking News
Top

हरियाणा में बलिदान दिवस पर जाटों का उग्र रूप, सुरक्षाबल तैनात-इंटरनेट बंद

kalpana@haribhoomi.com | UPDATED Feb 19 2017 1:07PM IST
चंडीगढ़. हरियाणा में दो दिन से चल रहे जाट आंदोलन ने उग्र रूप लिया हुआ है। वैसे तो यह विरोध-प्रदर्शन करीब 20 दिनों से चल रहा है लेकिन सोमवार को 'बलिदान दिवस' के मौके पर सुरक्षा के इंतजाम कड़े कर दिए। कई जगहों पर इंटरनेट सेवा भी बंद करनी पड़ी है। साथ ही, शराब की बिक्री पर भी रोक लगा दी गयी है। हंगामे की आशंका की वजह से पूरे क्षेत्र में भारी सुरक्षाबल तैनात है।
 
अखिल भारतीय जाट संघर्ष समिति ने पिछले साल जाट समुदाय के आरक्षण को लेकर हुए आंदोलन के दौरान मारे गए आंदोलनकरियों की याद में 19 फरवरी को बलिदान दिवस मनाने का एलान किया है। हरियाणा सरकार ने इस दौरान किसी भी स्थिति से निपटने के लिए कड़े इंतजाम किए हैं। राज्य में 37 कंपनी अर्द्धसैनिक बल तैनात किए गए हैं। कुछ जगहों पर इंटरनेट सेवा भी बंद कर दी गई हैं। समिति का दावा है कि हजारों की संख्या में लोग सड़कों पर उतरेंगे।
वैसे आंदोलन का मुख्य धरना रोहतक के जसिया में चल रहा है, जबकि सोनीपत, भिवानी, हिसार, जींद, फतेहाबाद और झज्जर में भी चल रहे धरनों पर रविवार को भीड़ आ सकती है। हरियाणा में चल रहे इस जाट बलिदान दिवस में महिलाओं ने भी बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया है। रोहतक में चल रहे आंदोलन के मुख्य धरने में भारी मात्रा में महिलाएं पहुंची हैं। 
पिछले साल जाट आरक्षण को लेकर हुए एक आंदोलन में कुछ आंदोलनकरियों की मौत हो गई थी उनकी याद में ही जाट समुदाय ने 19 फरवरी को बलिदान दिवस मनाने का ऐलान किया है। 
 
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo