Breaking News
Top

रयान स्कूल मालिक और मैनेजमेंट पर केस दर्ज, नाराज अभिभावकों ने स्कूल के पास लगाई आग, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Sep 10 2017 2:20PM IST
रयान स्कूल मालिक और मैनेजमेंट पर केस दर्ज, नाराज अभिभावकों ने स्कूल के पास लगाई आग, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

गुरुग्राम के रियान इंटरनेशनल स्कूल में सात साल के एक बच्चे की हत्या के मामले में नाराज अभिभावकों ने स्कूल के पास एक शराब के ठेके को आग लगा दी और स्कूल प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। वहीँ पुलिस ने भीड़ को काबू में करने के तगबा लाठीचार्ज किया।

वहीं गुरुग्राम पहुंचे प्रदेश के शिक्षा मंत्री रामविलास शर्मा ने बताया कि मालिक और प्रबंधन के खिलाफ केस दर्ज किया जा चुका है। स्कूल की मान्यता रद्द नहीं की जाएगी।

शर्मा ने यह भी कहा कि अगर पूरी जांच से प्रद्युम्न के माता-पिता संतुष्ट नहीं होंगे तो सरकार किसी भी एजेंसी से मामले की जांच के लिए तैयार है।

वहीं इस मामले में केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय (एचआरडी) ने सीबीएसई से विस्तृत रिपोर्ट तलब की है। मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए केंद्रीय एचआरडी मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि यह घटना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है।

इसे अन्य स्कूलों को एक चेतावनी के रूप में लेना चाहिए और इस बात की व्यवस्था करने पर ध्यान देना चाहिए कि जिससे इस तरह की घटना भविष्य में न हो। सीबीएसई बोर्ड ने मामले की जांच के लिए दो सदस्यीय अधिकारियों की एक टीम का गठन कर उसे जल्द से जल्द अपनी रिपोर्ट सौंपने को कहा है।

एनसीपीसीआर ने भी मांगी रिपोर्ट

इसके अलावा राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (एनसीपीसीआर) ने भी सीबीएसई के उप-उपायुक्त और हरियाणा के प्रमुख सचिव (शिक्षा विभाग) को घटना पर शानिवार को एक पत्र लिखकर रिपोर्ट देने को कहा है।

यहां बता दें कि आयोग की टीम ने शुक्रवार को रियान स्कूल का दौरा किया था। इसमें स्कूल प्रशासन की गैर-जिम्मेदारी व जरूरी चीजों के रिकॉर्ड न रखने पर सख्त नाराजगी भी जताई थी।

आयोग ने अपनी जांच में पाया कि स्कूल ने अपने स्टॉफ (टीचिंग, नॉन-टीचिंग) का पुलिस वेरिफिकेशन नहीं किया है और न ही उसके पास सूचना संबंधी रिकॉर्ड रखने के लिए अलग से कोई रजिस्टर है।

ये है मामला

गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में शुक्रवार को दूसरी क्लास में पढ़ने वाला 7 साल के प्रद्युम्न के साथ कुकर्म की कोशिश करने के बाद उसकी गला रेतकर हत्या कर दी गई थी।

जब मामले ने तूल पकड़ा तो पुलिस ने बस कंडक्टर अशोक समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया, जिसके बाद अशोक ने अपना जुर्म कबूल कर लिया।

वहीं मृत छात्र के परिजनों का कहना है कि बस कंडक्टर ने प्रद्युम्न  की हत्या नहीं की है, बस कंडक्टर का स्कूल के बाथरूम में क्या काम। परिजनों ने इस केस की सीबीआई जांच की मांग की है।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
gurugram police lathi charge people protesting fire outside ryan international school over death of pradyuman

-Tags:#Ryan International School#Pradyumn Thakur#Haryana Police#Crime News
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo