Hari Bhoomi Logo
सोमवार, मई 29, 2017  
Top

हाफ गर्लफ्रेंड फिल्म रिव्यूः अच्छी स्क्रिप्ट, कमजोर डायरेक्शन

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED May 19 2017 6:12PM IST
हाफ गर्लफ्रेंड फिल्म रिव्यूः अच्छी स्क्रिप्ट, कमजोर डायरेक्शन

फिल्म का नाम: हाफ गर्लफ्रेंड

डायरेक्टर: मोहित सूरी 

कलाकार: अर्जुन कपूर, श्रद्धा कपूर, सीमा बिस्वास, विक्रांत मस्सी, रिया चक्रवर्ती 

समय: 2 घंटा 15 मिनट 

सर्टिफिकेट: U/A

रेटिंग: 2 स्टार

चेतन भगत के उपन्यास पर अधारित 'हाफ गर्लफ्रेंड' फिल्म, जिसमें बिहार के लड़के और दिल्ली की लड़की की दास्तान को बयां किया गया है। इस फिल्म को डायरेक्ट किया है मोहित सूरी ने। 

क्या है कहानी

यह कहानी बिहार के बक्सर जिले के डुमरांव गांव के रहने वाले माधव झा (अर्जुन कपूर) की है जो गांव से निकल कर दिल्ला जाता है पढ़ाई करने के लिए। 

दिल्ली में उसकी मुलाकात अमीर घराने की एक लड़की रिया सोमानी (श्रद्धा कपूर) से होती है। माधव और रिया दोनों को ही बास्केटबॉल बहुत पसंद है।

माधव झा और रिया सोमानी की मुलाकात बास्केटबॉल कोर्ट पर ही पहले होती है और इसके बाद दोनों की मुलाकतें लगातार होने लगती है। 

बता दें कि बिहार के ग्रामीण पृष्ठभूमि से संबंध रखने वाले माधव झा को अंग्रेजी नहीं आती जिसकी वजह से उसका कॉलेज में बार-बार मजाक उड़ाया जाता है लेकिन, माधव का दोस्त शैलेश (विक्रांत मस्सी) हमेशा उसका साथ देता है।

फिर एक दिन माधव झा और उसकी हाफ गर्लफ्रेंड किसी बात को लेकर अलग हो जाते हैं। जिसके बाद माधव अपने गांव वापस चला जाता है और रिया कहीं और चली जाती है। लेकिन, कहानी एक बार फिर से ट्विस्ट तब आता है जब एक बार फिर से माधव और रिया की मुलाकात हो जाती है। 

एक्टिंग: अगर अभिनय की बात करें तो अर्जुन कपूर इस कैरेक्टर के लिए कही से भी परफेक्ट नहीं लगे। इस फिल्म में अर्जुन कपूर के द्वारा बिहारी भाषा बोलने में भी फंसते नजर आते हैं जिसकी वजह से कानों में दर्द पैदा करता है। 

वहीं अंग्रेजी जुबान के साथ अमीर शहरी लड़की के किरदार को श्रद्धा कपूर ने सही से न्याय किया है। साथ ही फिल्म में मां के किरदार में सीमा बिस्वास ने अपने रोल के साथ पूरा इंसाफ किया है। 

कमजोर डायरेक्शनः रोमांटिक फिल्मों के साथ मोहित सूरी दर्शकों के दिल को छूना बखूबी जानते है। इस फिल्म में भी वो कुछ ऐसा ही करने की कोशिश करते दिखाई दिए है लेकिन, आशिकी 2 और एक विलेन जैसा करिश्मा इस फिल्म के साथ नहीं दिखा पाते हैं। 

अच्छा संगीत: फिल्म का संगीत पहले ही हिट हो चूका है। ‘बारिश’, ‘फिर भी तुमको चाहूंगा’, और ‘थोड़ी देर’ फिल्म में जान डालने की पूरी कोशिश करते है। स्क्रीन पर इन्हें देखना अच्छा लगता है।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
shraddha and arjun kapoor starr film half girlfriend review

-Tags:#Half Girlfriend#Arjun Kapoor#Shraddha Kapoor#Seema Biswas
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo