Top

Exclusive इंटरव्यू: इंदु सरकार को लेकर मधुर भंडारकर ने किया बड़ा खुलासा

सुषमा त्रिपाठी | UPDATED Jul 22 2017 3:07PM IST
Exclusive इंटरव्यू: इंदु सरकार को लेकर मधुर भंडारकर ने किया बड़ा खुलासा

मधुर भंडारकर हार्ड हिटिंग, रियालिस्टिक फिल्म बनाने के लिए जाने जाते हैं। उन्होंने ‘चांदनी बार’, ‘फैशन’, ‘सत्ता’, ‘पेज थ्री’, ‘कॉरपोरेट’, ‘ट्रैफिक सिग्नल’, ‘हीरोइन’ और ‘कैलेंडर गर्ल’ जैसी फिल्में बनाई हैं। मधुर की ज्यादातर फिल्मों की कहानी महिला किरदारों के इर्द-गिर्द ही घूमती है। अब वह इमरजेंसी के बैकड्रॉप पर फिल्म ‘इंदु सरकार’ लेकर आए हैं। इसमें भी एक महिला के संघर्ष की कहानी है। इस फिल्म से जुड़ी बातें डिटेल में बता रहे हैं, डायरेक्टर मधुर भंडारकर। 

नॉन पॉलिटिकल फिल्म 

इन दिनों कई लोग कह रहे हैं कि यह एक पॉलिटिकल फिल्म है, लेकिन मैं इसे पॉलिटिकल फिल्म नहीं मानता हूं। मैंने ग्लैमर वर्ल्ड पर काफी फिल्में बनार्इं। लेकिन हर फिल्मकार को एक मुकाम पर आकर लगता है कि कुछ अलग काम करना है। मैं काफी समय से सत्तर के दशक पर बेस्ड किसी अच्छी कहानी पर फिल्म बनाने की प्लानिंग कर रहा था।

इसे भी पढ़ें: 'इंदु सरकार' की रिलीज पर लटकी तलवार, फिल्म होगी बैन!

एक दिन ख्याल आया कि इमरजेंसी के बैकड्रॉप को लेकर फिल्म बनानी चाहिए। हमने इस पर रिसर्च करना शुुरू किया। उस वक्त के तमाम लोगों से हम मिले। नेहरू मेमोरियल लाइबे्ररी वालों का पूरा सहयोग मिला। इमरजेंसी के वक्त के फोटोग्राफ, कुछ अखबार भी मिले। उस समय जिस तरह का माहौल था, उसे हमने अपनी फिल्म में रीक्रिएट किया है। 

‘इंदु सरकार’ की कहानी 

फिल्म की कहानी बेसिकली एक पति-पत्नी की है। शादी के बाद लड़की को सभी इंदु सरकार कहकर बुलाते हैं। फिल्म के सेंट्रल में यही इंदु(कीर्ति कुल्हारी) नाम की लड़की है। वह अनाथ है, कविता लिखती है, उसकी आवाज में हकलाहट है। उसका पति नवीन सरकार ब्यूरोक्रेट है। भारत सरकार में काम करता है।

पति-पत्नी के बीच आदर्शों की लड़ाई है। पत्नी के हिसाब से इमरजेंसी गलत है और पति के हिसाब से इमरजेंसी सही है। इस क्लैश का असर उनके रिश्तों पर पड़ता है। साथ ही उस वक्त जो अंडरग्राउंड एक्टिविटीज चल रही थीं, जिन्हें सरकार के खिलाफ माना जा रहा था, वह भी हमारी कहानी का हिस्सा है।

इसे भी पढ़ें- मधुर भंडारकर ने रद्द की 'इंदु सरकार' की प्रेस कांफ्रेंस

आम इंसान के अधिकारों को जिस तरह से कुचला गया था, जिस तरह से प्रेस पर सेंसरशिप लगी थी, 25 जून 1975 से लेकर 21 जनवरी 1977 तक जो कुछ देश में चला। कानूनों का किस तरह से उल्लंघन किया गया, किस तरह कुछ लोगों को गलत ढंग से जेल में बंद किया गया, यह सब भी दिखाया गया है। 

मानवीय पहलू की बात 

यह फिल्म एक औरत की आवाज है, जिसे दबाने की कोशिश की गई। उसके पति ने उसे दबाने की कोशिश की, लेकिन वह चुप नहीं रही। उसने अपने पति के खिलाफ जाकर अंडरग्राउंड एक्टिविटीज में हिस्सा लिया। उसने अपने देश के लोकतंत्र को फिर से स्थापित करने के लिए लड़ाई लड़ी।

एक फिल्मकार की हैसियत से मुझे लगता है कि मेरी फिल्म ‘इंदु सरकार’ में महज एक औरत की नहीं बल्कि पूरी जनता की आवाज है। हमने फिल्म में राजनीतिक नहीं, बल्कि एक मानवीय कहानी कहने की कोशिश की है।

मुझे लगा कि इस फिल्म को आप उस जगह से देखिए, जहां पर आज की युवा पीढ़ी है। आज हम कह सकते हैं कि इमरजेंसी हो ही नहीं सकती, क्योंकि आज मीडिया बहुत बड़ा हो गया है। साथ ही सोशल मीडिया भी स्ट्रॉन्ग हो गया है। 

इसे भी पढ़ें- संजय गांधी की बेटी ने 'इंदु सरकार' पर लगाई रोक, भेजा कानूनी नोटिस

एक्टर्स का सेलेक्शन 

फिल्म ‘जेल’ में नील नितिन मुकेश ने बेहतरीन काम किया था। उसी काम के आधार पर मैंने उन्हें ‘इंदु सरकार’ में संजय गांधी के किरदार के लिए चुना। उन्होंने बेहतरीन काम किया है। इसी तरह इंदिरा गांधी के किरदार में सुप्रिया विनोद ने बेहतरीन काम किया है। सुप्रिया विनोद तो तब्बू और विद्या बालन का मिश्रण हैं।

इंदू के किरदार के लिए मैंने कई बड़ी एक्ट्रेसेस से कॉन्टेक्ट किया था। दो एक्ट्रेसेस को डेट की प्रॉब्लम थी। वे चाहती थीं कि मैं छह महीने बाद फिल्म शुरू करूं। लेकिन कुछ बाद में वे पॉलिटिकल रीजन से फिल्म नहीं कर सकीं। मैं उनकी दिक्कतों को समझता हूं। आखिर मैं इंदु के रोल के लिए कीर्ति कुल्हारी को लिया। उन्होंने फिल्म में बहुत अच्छा काम किया है। वह एक टैलेंटेड एक्ट्रेस हैं। 

म्यूजिक 

फिल्म ‘इंदु सरकार’ के संगीतकार अनू मलिक और बप्पी लाहिरी हंै। फिल्म में अजीज नाजान की कव्वाली ‘चढ़ता सूरज धीरे धीरे ढल जाएगा..’ है। वहीं बप्पी लाहिरी ने ‘दिल्ली की रात’ गाने को संगीत से संवारा है। फिल्म के गाने कहानी को आगे बढ़ाने का काम करते हैं। 

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
madhur bhandarkar indu sarkar ban

-Tags:#Madhur Bhandarkar#Indu Sarkar#Bollywood News
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo