Top

राधे मां विवाद: विवेक विहार एसएचओ संजय शर्मा और एएसआई दोनों हुए सस्पेंड

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Oct 5 2017 9:44PM IST
राधे मां विवाद: विवेक विहार एसएचओ संजय शर्मा और एएसआई दोनों हुए सस्पेंड

दिल्ली में राधे मां को एसएचओ की कुर्सी पर बैठाने का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है। पहले दिल्ली पुलिस ने एसएचओ संजय शर्मा को लाइन हाजिर किया और फिर उसे सस्पेंड भी कर दिया। 

सोशल मीडिया और न्यूज चैनल्स पर गुरुवार सुबह से प्रसारित हो रहे फोटो और एक वीडियो से दिल्ली पुलिस का एक अलग ही चेहरा नजर आ रहा है। पुलिस की कार्यप्रणाली को लेकर भी कई प्रकार के सवाल खड़े हो रहे हैं।

बहरहाल, कई मामलों में अदालती कार्रवाई का सामना कर रही एक स्वयभूं राधे मां के थाने में पुलिस अफसर की कुर्सी पर विराजमान होने की खबरें सामने आने पर सीनियर अफसरों ने एसएचओ समेत आधा दर्जन पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया है। शाहदरा जिले के एडिशनल डीसीपी को मामले की पूरी जांच का जिम्मा भी सौंपा गया है।

दिल्ली पुलिस की छवि पर बट्टा लगाने वाली यह फोटो और एक वीडियो दशहरे की रात का बताया जा रहा है। राधे मां जीटीबी एंक्लेव में रामलीला देखने पहुंची थी। किसी बिजनेसमैन में उन्हें न्यौता देकर बुलाया था। 

इसके बाद वह विवेक विहार थाने पहुंचीं। वह एसएचओ की कुर्सी पर विराजमान हो गई। यह फोटो वायरल होते ही हंगामा खड़ा हो गया। फोटो में खुद विवेक विहार एसएचओ संजय शर्मा हाथ जोड़े राधे मां के बगल में गले में लाल चुनरी डाले खड़े हैं। 

उनकी मेज पर गुलाब की कुछ पंखुड़ियां भी बिखरी हुई फोटो में नजर आ रही हैं। फोटो देखने पर प्रथम दृष्टया लग रहा है कि गुलाब की पंखुड़ियां राधे मां के स्वागत में फैलाई गई थी। 

सूत्रों का कहना है कि राधे मां न सिर्फ एसएचओ की कुर्सी पर विराजमान हुईं बल्कि एसएचओ और थाने के कुछ अन्य पुलिस अधिकारियों ने उनका नतमस्तक होकर स्वागत किया। सभी पुलिसकर्मियों ने राधे मां का आशीर्वाद लिया।

सीनियर अफसरों ने बताया अव्यवहारिक और आपत्तिजनक

फोटो वायरल होने के बाद चौतरफा आलोचना का शिकार हो रही दिल्ली पुलिस के सीनियर अफसरों ने इस घटना को एसएचओ के गलत आचरण वाली अव्यवहारिक और आपत्तिजनक बताया है। 

स्पेशल सीपी दीपेंद्र पाठक ने कहा कि इस संबंध में जांच शुरू कर दी गई है। यह गंभीर मामला है। आरोप सही पाए जाने पर निश्चित तौर पर कार्रवाई होगी। 

फौरी तौर पर एसएचओ समेत छह पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर किया गया है। अन्य पुलिसकर्मियों में जीटीबी एंक्लेव थाने के एएसआई ब्रज भूषण, राधे किशन, हेड कांस्टेबल प्रमोद, कांस्टेबल हितेश और रविंद्र शामिल है।

विवादित है एसएचओ

गौरतलब है कि संजय शर्मा हाल में विवेक विहार थाने के एसएचओ तैनात किये गये हैं। इससे पहले हौजखास एसएचओ रह चुके हैं। रिश्वतखोरी के एक मामले में एलजी के निर्देश पर कई पुलिस अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई हुई थी। 

उसकी जद में संजय शर्मा भी आये थे। किसी तरह वह फिर एसएचओ लगे लेकिन अपनी कुर्सी पर राधे मां को बैठाकर आशीर्वाद लेने के चक्कर में कुर्सी गंवाने जैसी नौबत आ गई है।

एसएचओ की सफाई

इस पूरे विवाद पर एसएचओ ने दिलचस्प सफाई दी है। उन्होंने कहा कि राधे मां को रामलीला में वॉशरूम की व्यवस्था पसंद नहीं आई थी। उन्हें देखने के लिये लोगों की भीड़ भी मौके पर जुटने लगी। 

कुछ लोगों ने उन्हें घेर रखा था। इसलिए व्यवस्था बनाये रखने व वॉशरूम की सुविधा मुहैया करवाने के लिये उन्हें थाने ले जाया गया था। उनके पीछे-पीछे 15-20 फॉलोअर्स (भक्त) भी थे। थाने में उन्हीं लोगों की भीड़ जमा थी। ले।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
radhe maa vip treatment after vivek vihar sho suspended

-Tags:#Radhe Maa#Delhi Police#SHO#Video Viral#Vivek Vihar
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo