Breaking News
Top

बनियान धोने से मना किया तो यूनिवर्सिटी ने कर्मचारी को नौकरी से निकाला!

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Jan 3 2018 11:56PM IST
बनियान धोने से मना किया तो यूनिवर्सिटी ने कर्मचारी को नौकरी से निकाला!

कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता एवं जनसंचार विश्वविद्यालय में पिछले तीन सालों से संविदा पर नियुक्त कर्मचारी ईश्वरी यादव को नौकरी से निकाल दिया गया है। विश्वविद्यालय प्रबंधन कर्मचारी को निकाले जाने की वजह स्पष्ट नहीं कर पा रहा।

पढ़ें- रायपुर: नगर निगम और स्मार्ट सिटी लिमिटेड जल्द शुरु करेगा GIS आधारित ड्रोन सर्वे एवं डाटा संग्रहण

वहीं पीड़ित कर्मचारी का कहना है कि नवनियुक्त कुलसचिव अतुल तिवारी द्वारा कर्मचारियों से घरेलू कार्य भी लिए जाते हैं। पहली बार जब उसे कपड़े धोने के लिए कहा गया, तो उसने रजिस्ट्रार के कपड़े धो दिए। दूसरी बार जब फिर कपड़े धोने के लिए कहा गया, तो परीक्षा कार्य में ड्यूटी लगी होने के कारण इनकार कर दिया गया।

इसके बाद रजिस्ट्रार ने कर्मचारी को एक जनवरी से न आने का आदेश दे दिया गया।
 
नौकरी से निकाला गया कर्मचारी वर्ग-4 संविदा पर पिछले तीन सालों से कार्यरत है। बस कंडक्टर का काम लिए जाने के साथ ही विश्वविद्यालय की सफाई, माली और चपरासी के कार्य भी लिए जाते रहे हैं। कर्मचारी को लिखित आदेश जारी न कर मौखिक आदेश जारी किया गया है। मांगने के बाद भी लिखित आदेश नहीं दिया गया।
 
कर्मचारी को क्यों निकाला गया, यह तो रजिस्ट्रार ही बता पाएंगे। पूरा मामला क्या है, इसके बारे में कल दिखवाता हूं।
- मानसिंह परमार, कुलपति, कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता एवं जनसंचार विश्वविद्यालय 
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo