Breaking News
Top

पहले चाकू-ईंट से हमला, फिर भी मन नहीं माना तो खाट में बांधकर लगाई आग

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Sep 11 2017 8:57AM IST
पहले चाकू-ईंट से हमला, फिर भी मन नहीं माना तो खाट में बांधकर लगाई आग
छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में किराए के मकान में रहकर पीएससी की तैयारी कर रहे छात्र से उसके दोस्त के माध्यम से एक युवक ने आठ दिन पहले परिचय हुआ।
 
शनिवार की रात 9 बजे अचानक उसे घर आया और रात कमरे में रूकने की बात कहकर रूक गया। कुछ देर बाद ही पीछे से उसके गर्दन में चाकू व ईट से जान लेवा हमला कर जाने मारने की धमकी देता रहा, डर से छात्र चिल्ला भी नहीं पाया और बदहवास होकर सो गया।
 
देर रात युवक ने उसे खाट में बांधकर गैस की पाइप खोलकर आग लगाकर उसके पर्स से 500, मोबाइल व उसकी बाइक लेकर भाग गया।
 
सुबह 4 बजे मकान मालिक ने किराएदार के घर में आग देखा। दमकल से पानी डालकर आग बुझाकर गैस को बंद किया गया। उसके बाद घायल युवक को इलाज के लिए सिम्स में भर्ती कराया। 12 घण्टे बाद भी पुलिस आरोपी युवक को खोज नहीं पाई है।
 
सिविल लाइन पुलिस के अनुसार, मुंगेली निवासी कृषक ललित भारद्वाज का बेटा पूनम भारद्वाज 28 वर्ष पिछले दो साल से बिलासपुर में किराए की मकान में रहकर पीएससी की कोचिंग कर रहा है।
 
वर्तमान में वह जरहाभाठा ओमनगर बढ़ाई चाल निवासी रामा गढ़ेवाल के मकान में किराए में रह रहा है। उसका अजय बंजारे नामक युवक से दोस्ती थी। 8 दिन पहले अजय बंजारे के माध्यम कोनी क्षेत्र के यशवंत कुर्रे नामक युवक से उसका परिचय हुआ। शनिवार की रात पूनम
 
भारद्वाज कमरे में पढ़ाई कर रहा था। रात 9 बजे यशवंत कुर्रे उसके घर आया और रात कमरे में रूकने की बात कहा। दोस्त के माध्यम से उसका परिचय हुआ था जिससे वह तैयार हो गया। वह कमरे में बैठ गया और पूनम घर का काम करने लगा।
 
कुछ देर बाद ही अचानक पीछे से मुंह दबाकर गर्दन के पीछे चाकू पर हमला कर दिया, शोर मचाने पर जान से मारने की धमकी देते हुए सिर पर ईट से हमला कर दिया।
 
जिससे डर कर छात्र कमरे में खून से लथपथ दर्द से तड़फड़ते बैठा रहा और यशवत मौत बनकर उसके साथ दहशतगर्दी करते हुए हाथ पैर से मारपीट करता रहा। उसके डर व दर्द से वह बदहवास होकर जमीन पर लेट गया। रात भर युवक मौत बनकर उसके कमरे में बैठा रहा। इतना मारपीट करने
 
के बाद भी उसका जी नहीं भरा तो तड़के करीब 4 बजे उसे जमीन से उठाकर बिस्तर में लेटाया और रस्सी से हाथ पैर को खाट से बांध दिया। उसके बाद उसके पर्स से 500 रुपए निकाला फिर गैस सिलेण्डर लिकेज कर आग लगाकर उसका मोबाइल व बाइक लेकर भाग गया। सुबह 4.30 बजे मकान मालिक रामा गढ़ेवाल सोकर उठे किराएदार के मकान से आग की लपटे निकलते देखा। उन्होने तत्काल
 
पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी। सूचना मिलते ही सिविल लाइन पेट्रोलिंग पाटी व नगर सैनिक दमकल लेकर पहुंच गए। काफी
 
मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया। उसके बाद कमरे से गैस सिलेण्डर को बाहर निकाला गया। उसके बाद रस्सी खोलकर घायल युवक को कमरे से बाहर निकालकर संजीवनी 108 से इलाज के लिए सिम्स में भर्ती कराया गया। सिम्स के केजवल्टी वार्ड में उसका इलाज चल रहा है।
 
पुलिस ने रिपोर्ट पर आरोपी यशवंत कुर्रे के खिलाफ धारा 307, 397, 436 के तहत अपराध कायम कर लिया है। मजेदारबात यह है कि 12 घण्टे बाद भी पुलिस आरोपी का सुराग नहीं लगा पाई है।
 

पैर तक पहुंच गई थी आग

किचन में रखे गैस सिलेण्डर से आग की लपटे खाट तक पहुंच गई थी, आग से उसके दोनों पैर झुलस गए। समय पर मकान मालिक की नींद खुल जाने से वह बाल बाल बच गया, नहीं तो बड़ा हादसा हो सकता था।
 

प्राब्लम क्रियेट करने पर मारा

आरोपी यशवंत छात्र से मारपीट करते समय यह कह रहा था तेरे वजह से मेरी जिन्दगी में प्राब्लम क्रियेट हो गया, लेकिन वह वजह नहीं बता रहा था। संभावना जताई जा रही कि युवती को लेकर उसने हैवान बनकर दहशतगर्दी कर उसके साथ मारपीट कर जान से मारने की कोशिश की है।
 

शहर में युवक, युवतियों की बाढ़

पिछले कुछ सालों में शहर में अकेले युवक युवतियों के किराए का मकान लेकर अकेले रहने वालों की बाढ़ आ गई है। मजेदारबात यह है कि शहर में सैकड़ो हास्टल के अलावा भी लोग एक एक कमरे की चाल बनाकर युवत युवतियों को किराए में दे रहे है।
 
शाम होते ही इन युवक युवतियों की कमरे में जश्न मनाया जाता है। यह भी नहीं देखा जाता कि उसके कमरे में कौन आता जाता है, वह कमरे में क्या करते है। मकान मालिक केवल पैसा कमाने में लगे हुए है।
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
weird crime in bilaspur boy fired

-Tags:#weird news
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo