Hari Bhoomi Logo
बुधवार, मई 24, 2017  
Breaking News
Top

जंगल-पहाड़ की रजिस्ट्री होगी रद्द, हरिभूमि की पहल पर मुख्यमंत्री ने दिए जांच के आदेश

haribhoomi.com | UPDATED May 22 2016 12:21PM IST
राजनांदगांव. डोंगरगढ़ ब्लॉक के जंगल और पहाड़ की रजिस्ट्री अब रद्द होगी। खुलासे के बाद मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने शनिवार को प्रशासन को इस पूरे प्रकरण की उच्च स्तरीय जांच कराने के निर्देश दिए हैं। गौरतलब है कि हरिभूमि ने इस मुद्दे को प्रमुखता से प्रकाशित किया था। इसके बाद शनिवार को लोक सुराज अभियान के दौरान मुख्यमंत्री ने सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।
 
सीएम ने साफ तौर पर कहा है कि इस गोरखधंधे में जुड़े जमीन दलालों और अधिकारियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने जंगल और पहाड़ की रजिस्ट्री निरस्त करने का भी आदेश दिया है।
 
लोक सुराज अभियान के तहत राजनांदगांव जिले के दौरे पर शनिवार को यहां आए मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक में सैकड़ों एकड़ में स्थित जंगल और पहाड़ की जमीन को बेचे जाने के मामले की जानकारी ली। डॉ. सिंह ने अधिकारियों को साफतौर पर कहा कि सरकारी जमीन को बेचे जाने में शामिल अधिकारियों और जमीन दलालों की जांच की जाए और उनके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई भी करें।
 
बैठक में मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने पूरे जिलेभर में अभियान चलाकर इस मामले की जांच करने के भी निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि डोंगरगढ़ के अलावा जिलेभर में सरकारी जमीनों को बेचे जाने की शिकायतें हैं और इन शिकायतों को प्रशासन को पूरी तरह गंभीरता से लेना होगा।
 
बैठक में कलेक्टर मुकेश बंसल ने बताया कि बागरेकसा में 55 एकड़ में स्थित बड़े झाड़ के जंगल को बेचे जाने की शिकायत पर जांच शुरू हो गयी है। वहीं गुडरी कनेरी गांव में भी करीब डेढ़ सौ एकड़ जंगल और पहाड़ की जमीन को बेचे जाने की शिकायतें मिली है। इसके अलावा डोंगरगढ़ के कुछ गांवों से भी इसी तरह की शिकायतें सामने आ रही है।
 
आगे की स्लाइड्स में पढिए, खबर से जुड़ी अन्य जानकारी - 
 
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo