Breaking News
Top

चिकन सेंटर की आड़ मे टेरर फंडिंग, ED ने की संपत्ति कुर्क

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Oct 14 2017 4:20AM IST
चिकन सेंटर की आड़ मे टेरर फंडिंग, ED ने की संपत्ति  कुर्क

केंद्रीय प्रवर्तन निदेशालय ने शुक्रवार को आतंकवादी संगठन इंडियन मुजाहिदीन (आईएम) और सिमी से जुड़े आतंकी जुबैर हुसैन तथा धीरज साव की मंगलोर (कर्नाटक) में करीब सवा पांच लाख रुपए की संपत्ति कुर्क कर ली है। 

इसकी जानकारी प्रर्वतन निदेशालय की रायपुर शाखा ने दी है। दोनों आरोपियों को रायपुर पुलिस ने गिरफ्तार किया था। 

ईडी ने संपत्ति कुर्क करने की कार्रवाई धन शोधन निवारण अधिनियम 2002 के प्रावधान के तहत की है। आरोपियों के खिलाफ ईडी ने 2014 में जांच प्रारंभ की थी।

ईडी ने अपनी जांच में पाया था, धीरज साव आतंकी संगठनों को वित्तीय मदद के लिए अपने व अपने सहयोगियों के नाम से बैंक में अकाउंट खुलवाकर उन खातों का दुरुपयोग करता था। 

धीरज के सहयोगियों के खातों में अलग-अलग स्रोत से पैसा जमा होता था। वह इन खातों के रुपए को जुबैर हुसैन, आयशा बानो, राजू खान व अन्य लोगों के खाते में जमा करता था। 

धीरज जिन लोगों के अकाउंट में रुपए जमा करता था, वो आतंकवादी संगठन सिमी और इंडियन मुजाहिदीन से जुड़े हुए थे। जांच में ईडी ने पाया धीरज व अन्य लोग आतंकी संगठनों के लिए धन जुटाने का काम करते थे। 

इसी तरह इन लोगों ने करीब तीन करोड़ रुपए से अधिक की राशि जुबैर, आयशा व राजू के खातों में जमा कराए थे।

लाखों रुपए कमीशन

ईडी के मुताबिक धीरज साव ने स्वीकार किया है कि आतंकी खातों में राशि जमा कराने के एवज में उसे साढ़े तीन लाख रुपए कमीशन मिला था। 

जुबैर, आयशा व राजू टेरर फंडिग की अंतिम कड़ी थेे। उसने ईडी को बताया, उसने कमीशन के लालच में टेरर फंडिंग के लिए आतंकी संगठनों की मदद की। 

धीरज के अकाउंट में पाकिस्तान के किसी खालिद नाम का आतंकी रुपए भेजता था। धीरज को रायपुर पुलिस ने 25 दिसंबर 2013 को गिरफ्तार किया है।

चिकन सेंटर की आड़ मेें फंडिंग

धीरज परिवहन कार्यालय के सामने चिकन सेंटर चलाता था। उसे आतंकी समर्थकों ने रुपए ट्रांसफर करने और छत्तीसगढ़ में आतंकी समर्थकों की स्थिति मजबूत करने रुपए देने रायपुर भेजा था। 

धीरज की निशानदेही पर कर्नाटक, मैंगलोर पुलिस ने जुबैर और उसकी पत्नी की गिरफ्तारी की। 

जुबैर और उसकी पत्नी ने ईडी के सामने कबूल किया कि उन्हें आतंकी फंडिंग के एवज में तीस लाख रुपए कमीशन के तौर पर मिला है। धीरज का आईसीआईसीआई बैंक में अकाउंट था।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
property confiscated of terrors linked to im and simi

-Tags:#Terror Funding Case#ED#Indian Mujahideen#IM#SIMi
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo