Breaking News
Top

देश के सबसे अजब-गजह IAS हैं अजयपाल, कभी पत्नी से विवाद, कभी ऑन ड्यूटी चिकन-मटन और मालिश

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Aug 13 2017 2:23PM IST
देश के सबसे अजब-गजह IAS हैं अजयपाल, कभी पत्नी से विवाद, कभी ऑन ड्यूटी चिकन-मटन और मालिश

भारतीय प्रशासनिक सेवा कैडर से बाहर किए गए अफसर अजयपाल सिंह के कारनामे भी अजब-गजब रहे हैं। अपनी सर्विस के दौरान कई तरह के विवादों में उलझे रहने वाले अजयपाल सरकारी नौकरी के नियम कायदों को विपरीत काम करने के लिए दोषी ठहराए गए, लेकिन उनका निजी जीवन भी विवादों से परे नहीं रहा। उनकी पत्नी ने उनके खिलाफ गंभीर शिकायतें कीं। 

इसे भी पढ़ेंः OMG! 8 साल का ये बच्चा बॉलीवुड के शहनशाह अमिताभ से भी है लंबा

यही नहीं, सामान्य तौर पर उनकी कार्यशैली ने मुसीबतें बढ़ाईं। प्रदेश की नौकरशाही में उनके इस कारनामे की चर्चा फिर ताजा हो गई है कि वे ड्यूटी के दौरान भी मटन चिकन का लुत्फ उठाने के साथ अपने भारी-भरकम शरीर की मालिश करवाने जैसे शौक पूरे करते रहे। 

पंजाब मूल के इस अधिकारी की पूरा सेवाकाल अब तक विवादों में रहा है। सरकारी कामकाज के अलावा पारिवारिक विवाद भी ऐसे की उसकी वजह से इनकी छवि धूमिल होती रही। प्रशासनिक सेवा के अफसर के रूप में इन विवादों के कारण शासन की छवि पर भी आंच आई।

अजयपाल की पहली नियुक्ति इंदौर के महु में एसडीएम के रूप में हुई थी। यहीं से ये विवाद में आए। राजगढ़ में कलेक्टर के रूप में काम करते हुए एक मूर्ति गायब होने के मामले के लेकर उनका नाम घसीटा गया। इधर छत्तीसगढ़ में इन्हें पर्यटन विभाग का दायित्व सौंपा गया था, इस दौरान तत्कालीन पयर्टन मंत्री बृजमोहन अग्रवाल से इनका विवाद काफी चर्चा में आया। 

यही नहीं अजयपाल सिंह को इसके बाद राजस्व मंड़ल में भेजा गया, वहां इनके द्वारा जमीन संबंधी मामले में दिए गए आदेशों पर सवाल उठे। अजयपाल का पारिवारिक जीवन में विवादों से अछूता नहीं रहा। इन सभी वजहों से अजयपाल को कभी भी संवेदनशील और महत्वपूर्ण पद नहीं दिए गए। समय पर उनका प्रमोशन भी नहीं हुआ।

सरकारी खर्च पर 

अजयपाल सिंह के चुनाव आयोग ने पर्यवेक्षक नियुक्त कर पश्चिम बंगाल भेजा था, इस दौरान वे अपने खाने-पीने के तौर तरीके की वजह से चर्चा में आए। बताया गया है कि पश्चिम बंगाल में करीब 19 दिन रहे। इस दौरान वे पांच दिन फाइव स्टार होटल में रुके। यहां उन्होंने सरकारी खर्च पर 472 रुपए गिलास का फ्रैश जूस का आनंद लिया वह भी सरकारी खर्च पर। यही नहीं पांच दिनों में होटल के खाने का उनका बिल 6 हजार 500 रुपए बना। ड्यूटी के दौरान होटल में उन्होंने स्पा (मालिश) भी करवाई। 

इसी दौरान मुख्य निर्वाचन आयुक्त द्वारा बुलाई गई बैठक से वे गैरहाजिर रहे। दूसरे चुनाव पर्यवेक्षकों ने अपने क्षेत्र के मतदान केंद्रों में जाकर व्यवस्था का जायजा लिया, लेकिन अजयपाल सिंह इस काम के लिए भी नहीं पंहुचे। 

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
ias officer ajaypal carrer profile

-Tags:#IAS Officer Ajaypal#Election Commission
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo