Breaking News
Top

फलाहारी बाबा की कभी भी हो सकती है गिरफ्तारी, छात्रा ने की तीन चेलों की पहचान

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Sep 23 2017 2:01PM IST
फलाहारी बाबा की कभी भी हो सकती है गिरफ्तारी, छात्रा ने की तीन चेलों की पहचान

युवती से दुष्कर्म के आरोपी अलवर के स्वामी कौशलेंद्र प्रपन्नाचार्य फलाहारी बाबा को अलवर पुलिस कभी भी गिरफ्तार कर सकती है।

छात्रा द्वारा मामला दर्ज कराने के बाद जानकारी मिलने पर बाबा आईसीयू में भर्ती हो गया था, अब उसे जनरल वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया है।

वहीं बाबा के खिलाफ शिकायत करने वाली छात्रा पुलिस सुरक्षा के बीच अलवर पहुंच कर पुलिस को अपना बयान दर्ज करा दिया है।

छात्रा ने बाबा के तीन चेलों की पहचान की है, तीनों चेलों को पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

बिलासपुर की एक छात्रा ने अलवर के स्वामी कौशलेंद्र प्रपन्नाचार्य फलाहारी बाबा के खिलाफ बलात्कार का आरोप लगाया है। 

इस मामले को शहर की पुलिस ने दबाने का प्रयास किया था, पर 10 दिन बाद मामला उजागर हो गया। 

पीड़ित छात्रा की शिकायत पर बिलासपुर पुलिस ने शून्य में मामला दर्ज कर अलवर पुलिस को डायरी भेज दी है। उसके बाद से अलवर पुलिस मामले की जांच कर रही है। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार गुरुवार को पुलिस ने अलवर के काला कुआं स्थित मधुसूदन सेवा आश्रम में जांच की थी। 

पुलिस ने यहां से सीसी टीवी कैमरे के कम्प्यूटर की हार्ड डिस्क डीवीआर जब्त किया है। सीसी टीवीफुटेज के जरिए पुलिस पता लगाएगी कि घटना के दिन व उसके अगले दिन आश्रम में क्या गतिविधियां हुईं। 

पुलिस ने बाबा के शयन कक्ष को भी सील कर दिया है, जिसमें युवती ने यौन शोषण का आरोप लगाया है। 

जांच के बाद अलवर पुलिस बयान दर्ज करने के लिए पीड़ित छात्रा का इंतजार कर रही थी। पीड़ित छात्रा ने अपनी जान का खतरा बताते हुए सुरक्षा की मांग की थी। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार पुलिस सुरक्षा के साथ पीड़ित छात्रा को अलवर भेजा गया है। अलवर पुलिस ने शुक्रवार को छात्रा का बयान दर्ज किया है। इस मामले में अलवर पुलिस गंभीरता से जांच कर रही है। 

वहीं फलाहारी बाबा को अस्पताल के आईसीयू से जनरल वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया है, लेकिन वे पुलिस की निगाह में हैं। अलवर पुलिस के अनुसार कभी भी फलाहारी बाबा को गिरफ्तार किया जा सकता है।

आश्रम से सीडी व जेवरात जब्त

अलवर पहुंचने के बाद छात्रा का बयान दर्ज होते ही अलवर पुलिस हरकत में अा गई। बयान के बाद पुलिस फलाहारी बाबा के आश्रम में दबिश देकर जांच शुरु कर दी है। जांच के दौरान आश्रम से सीडी व महंगे जेवरात पुलिस के हाथ लगे हैं, जिसे जब्त किया गया है।

बाबा के तीन चेले हिरासत में

शुक्रवार को पीड़ित छात्रा को लेकर अलवर पुलिस आश्रम पहुंची। आश्रम में पहुंचते ही पीड़ित छात्रा ने बाबा के तीन चेलों की पहचान की है। 

पुलिस तीनों काे हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। तीनों गिरफ्तार चेलों के सामने पीड़ित ने बताया कि एक उसे स्टेशन से आश्रम तक ले गया था, दूसरे ने उसे बाबा के कमरे तक पहुंचाया था। 

बाबा का तीसरा चेला कमरे में बाबा के साथ मौजूद था। छात्रा को स्टेशन छोड़ने वाले युवक से भी पूछताछ की जाएगी।

गिरफ्तारी से बचाने का प्रयास

मामला दर्ज होने की जानकारी मिलते ही बाबा अस्पताल के आईसीयू में भर्ती हो गए। 

इलाज के बाद डाक्टर ने स्वास्थ्य में सुधार बताया है,पर बाबा के चेलों ने उन्हें गिरफ्तारी से बचाने के लिए आईसीयू से जनरल वार्ड में भर्ती करा दिया गया है। 

वहीं बाबा के तीनों चेलों के पकड़े जाने के बाद बाबा समर्थकों ने जमकर हंगामा मचाना शुरू किया है।

इस दौरान अलवर गई पीड़ित छात्रा को भी बाबा के समर्थकों ने परेशान करने का प्रयास किया है।

सुरक्षा में तीन पुलिस के अधिकारी व सिपाही

छात्रा की मांग पर उसे पुलिस सुरक्षा दी गई है। छात्रा को अलवर भेजा गया है। 

छात्रा की सुरक्षा में बिलासपुर की महिला थाना प्रभारी विनोदनी टांडी, एएसआई ऐश्वरी मिश्रा व सिपाही सोमेश श्रीवास को भेजा गया है, जो छात्रा की सुरक्षा कर रहे हैं।

पेंड्रा आश्रम में सन्नाटा

हर नवरात्रि में पेंड्रा स्थिति स्वामी कौशलेन्द्र प्रपन्नाचार्य फलाहारी महाराज के आश्रम में श्रद्धालुओं की भीड़ जमा रहती थी, पर छात्रा द्वारा फलाहारी बाबा के खिलाफ आरोप लगाने के बाद आश्रम में सन्नाटा पसरा हुआ है। 

शुक्रवार को भी आश्रम में किसी प्रकार की हलचल नहीं हुई। जिले की पुलिस शुक्रवार को भी आश्रम की जांच करने नहीं गई।

पीड़ित छात्रा का बयान दर्ज

पीड़ित छात्रा का बयान दर्ज कर लिया गया है। अभी जांच हाे रही है। फलाहारी बाबा को आईसीयू से जनरल वार्ड में शिफ्ट किया गया है। बाबा की गिरफ्तारी कभी भी की जा सकती है।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo