Breaking News
Top

छत्तीसगढ़: छात्राओं से छेड़छाड़ करने वाले 2 जवान सस्पेंड, एक गिरफ्तार

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Aug 9 2017 7:26PM IST
छत्तीसगढ़: छात्राओं से छेड़छाड़ करने वाले 2 जवान सस्पेंड, एक गिरफ्तार

दंतेवाड़ा के पालनार गांव में स्कूली लड़कियों से राखी बंधवाने आए सीआरपीएफ के सिपाहियों पर लगे छेड़खानी के आरोप की पुष्टि हो गई है। दंतेवाड़ा रेंज के डीआईजी सुंदरराज पी. ने बताया कि मामले में दो सिपाही आरोपी बनाए गए हैं, इन दोनों को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया गया है। 

इनमें से एक की गिरफ्तारी कर ली गई है। एक आरोपी घटना के बाद से उत्तराखंड़ रवाना हो गया है, उसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस की पार्टी वहां भेजी जा रही है।

छत्तीसगढ़ के आदिवासी इलाके बस्तर जिले के पालनार गांव में यह घटना 31 जुलाई को हुई थी। दंतेवाड़ा में तैनात सीआरपीएफ के सिपाहियों को लड़कियों के स्कूल में राखी बंधवाने के लिए बुलाया गया था। 

स्कूल में बड़ी संख्या में लड़कियां थी, इनमें से अधिकांश आदिवासी समुदाय से थी। बताया गया है कि कुछ लड़कियां जब शौचालय जाने के लिए निकलीं तो इनका सामना सीआरपीएफ सिपाहियों से हुआ। 

सिपाहियों ने लड़कियों की तलाशी के नाम पर छेड़छाड़ शुरु कर दी। इसी बीच तीन लड़कियां शौचालय में गईं तो उनके पीछे सिपाही भी आ गए। इन्होने शौचालय के भीतर घुसकर लड़कियों से बदसलूकी की। 

इस दौरान लड़कियों ने शोर करने की कोशिश की तो उनको डराया-धमकाया गया। बाद में लडकियों ने इस बात की शिकायत छात्रावास अधीक्षक से की। उन्होंने ने अन्य स्थानीय अधिकारियों सहित प्रशासन के अधिकारियों को इस बारे में बताया।

मामला दबाने की कोशिश

सूत्रों के अनुसार इस मामले को दबाने के लिए प्रशासन के अधिकारियों ने काफी प्रयास किए। इस बीच प्रशासनिक अधिकारियों ने पालनार पहुंचकर लड़कियों से बात की। एक बार फिर इन्हें खामोश रखने की कोशिश की गई। 

लेकिन मामला सार्वजनिक होने की वजह से आखिरकर पुलिस के अपराध दर्ज करना पड़ा। करीब एक हफ्ते बाद सीआरपीएफ के अज्ञात सिपाहियों के खिलाफ पास्को एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया।

लड़कियों के बयान से हुई पुष्टि

दंतेवाड़ा रेंज के डीआईजी के अनुसार जांच के दौरान लड़कियों के बयान लिए गए, बयानों का प्रतिपरीक्षण किया गया। डीआईजी ने बताया कि दो जवानों शमीम तथा नीरज के नाम सामने आए। 

इन दोनों ने लड़कियों को तलाशी के नाम पर जबरदस्ती छूने की कोशिश की। कायदे से तलाशी का काम महिला पुलिस कर्मी या किसी महिला अधिकारी से करवाया जाना था। डीआईजी ने माना कि सीआरपीएफ सिपाहियों ने जो किया वह गलत था। 

छेड़खानी की घटना की पुष्टि होने पर आरोपियो की पहचान की गई। आरोपी शमीम को गिरफ्तार किया गया। दूसरे आरोपी नीरज के बारे में पता लगा है कि घटना के बाद ही वह अवकाश लेकर अपने घर उत्तराखंड़ के लिए रवाना हो गया है। उसे गिरफ्तार कर दंतेवाड़ा लाने के लिए पुलिस का दल उत्तराखंड़ भेजा जा रहा है।

सीआरपीएफ ने कहा, मजिस्ट्रियल जांच हो

इधर, सीआरपीएफ ने इस मामले को अत्यंत गंभीरता से लिया है। बताया गया है कि सीआरपीएफ के अधिकारियों ने दंतेवाड़ा के कलेक्टर व एसपी से बात की है। इसके साथ ही मामले की मजिस्ट्रियल जांच करवाने का आग्रह किया है। 

बताया गया है कि एक आरोपी सिपाही को सीआरपीएफ के अफसरों ने पुलिस के हवाले किया है। सीआरपीएफ ने आरोपियों को तत्काल प्रभाव से निलंबित करते हुए उनके खिलाफ कोर्ट ऑफ इन्कवारी का आदेश दिया है। 

यह जांच सीआरपीए की एक महिला अधिकारी से करवाई जाएगी। सीआरपीएफ के आईजी डीएस चौहान ने एक बयान जारी कर कहा है कि इस प्रकार की घटना की अनदेखी नहीं की जा सकती। आरोपियों को खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। 

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
crpf has suspended two jawan who have got tampered with the girls

-Tags:#Chhattisgarh#CRPF
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo