Hari Bhoomi Logo
रविवार, मई 28, 2017  
Top

अलग खबर: 20 लाख का बांध हुआ गायब, अब किडनैपिंग की दर्ज होगी शिकायत

haribhoomi.com | UPDATED Jul 1 2014 9:56AM IST
बस्तर. सरगुजा में 20 लाख खर्चकर बांध बनाया गया, दस्तावेज भी तैयार कर लिए गए और फोटो भी जारी कर दिए गए। विभाग ने कार्य पूरा होने का प्रमाणपत्र भी जारी कर दिया, लेकिन मौके पर जांच में बांध मिला ही नहीं। बांध गायब है। इसका खुलासा लोकपाल तक मामला पहुंचने के बाद हुआ और अब लोकपाल ने विभाग से पूछा है कि आखिर बांध गया कहां? 
 
मामला बलरामपुर जिले के राजपुर ब्लाक का है। यहां 2009-10 में बांसदोह नाले पर 20 लाख 88 हजार रुपए की लागत से चेकडैम बनाने की प्रशासकीय स्वीकृति मिली। इसके लिए सिंचाई विभाग के रामानुजगंज डिवीजन को निर्माण एजेंसी द्वारा बनाया गया। यहां काम मनरेगा के तहत कराया गया। एजेंसी ने मस्टररोल पर काम कराया। 
 
14 मार्च 2012 को बांध बनकर तैयार हो गया, इस आशय का प्रमाणपत्र भी जारी हो गया। इसमें निर्माण एजेंसी ने यह बताया कि, बाकी कामों के साथ साथ बीस लाख की लागत से बनने वाले इस डेम का काम भी पूरा हो गया है। कार्य पूर्णता प्रमाण पत्र के साथ उपयोगिता प्रमाण पत्र, निरीक्षण प्रतिवेदन और छाया चित्र भी जमा कर दिए गए, याने कि काम पूरा हुआ। निरीक्षण प्रतिवेदन यही बताता भी है कि काम पूरा हो चुका है, इस पूरे काम के फोटो भी जमा किए गए हैं। लेकिन मामला ऐसा था नहीं। पूरा फर्जीवाड़ा प्रतीत हो रहा है 

 नीचे की स्‍लाइड्स में पढ़िए, कैसे डैम प्रोजेक्ट में भ्रष्टाचार का खुलासा हुआ - 

 खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर-
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo