Hari Bhoomi Logo
मंगलवार, जुलाई 25, 2017  
Breaking News
Top

बस्तर: यहां बारिश के लिए हिलाया जाता है भीमसेन पत्थर

haribhoomi.com | UPDATED Aug 31 2016 11:07AM IST
नकुलनार. बस्तर में बारिश न होने पर ग्रामीण देवी-देवताओं को मनाने के लिए तरह-तरह के अनुष्ठान करते हैं। इसी तारतम्य में दंतेवाड़ा जिले के ग्राम उदेला में भी 84 परगना के ग्रामीण बारिश करने के लिए देवताओं को प्रसन्ना करते हैं। ऐसी पौराणिक मान्यता है कि यहां स्थित एक पर्वत में भीमसेन नामक नुकीला पत्थर है जिसे ग्रामीणों द्वारा हिलाने से मेघ जमकर बरसते हैं। इससे किसानों को खेती के लिए पानी की समस्या दूर हो जाती है और क्षेत्र में सूखा नहीं पड़ता है। यह स्थान जिला मुख्यालय से लगभग 30 किमी दूर स्थित है। 
 
विधि विधान से पूजा-अर्चना
इस स्थान में 84 गांव के लोग एकत्रित होकर विधि विधान से पूजा-अर्चना करते हैं। पुजारी द्वारा इस नुकीले पत्थर को हिलाते हैं। भगवान भीमसेन को प्रसन्ना करने के लिए ढ़ोल नगाड़े व बिगुल भी बजाए जाते है। मंगलवार को यहाँ पर नकुलनार, गढ़मिरी, कुआकोंडा, पालनार, मोखपाल, हल्बारास, समेली, फुलपाड़, गोंगपाल, मोलसनार, गंजेनार, हितावर, मैलावाड़ा, टिकनपाल, बेड़मा, श्यामगिरी, खुटेपाल समेत क्षेत्र के अन्य गाँवों के सैकड़ों ग्रामीणों ने पहुंचकर भगवान भीमसेन को प्रसन्न करते बारिश कराने की मांग की।
 
बारिश कराने की प्रार्थना
भगवान ने भी ग्रामीणों की फरियाद सुन ली और मंगलवार को दोपहर बाद क्षेत्र में जमकर बारिश हुई। इससे किसानों के चेहरे खिल गए तथा भगवान के प्रति उनकी आस्था और प्रबल हो गई। ग्राम के पटेल, मांझी, पुजारी ने भगवान भीमसेन से क्षेत्र में बारिश कराने की प्रार्थना करते हुए अच्छी फसल व पैदावार की फरियाद की। इस दौरान सभी गांवों के सरपंच, पटेल, पुजारी व ग्रामीण मौजूद थे।
 
 
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo