Hari Bhoomi Logo
शनिवार, सितम्बर 23, 2017  
Breaking News
Top

सुबह दी फ्रेंडशिप डे की बधाई, बहन से किया राखी का वादा, दोपहर को शहीद

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Aug 6 2017 9:45PM IST
सुबह दी फ्रेंडशिप डे की बधाई, बहन से किया राखी का वादा, दोपहर को शहीद

राजनांदगांव जिले की नक्सल घटना ने एक बहन से रक्षाबंधन से एक दिन पहले उसका भाई छीन लिया। एक मां से होनहार बेटा और फ्रैंडशिप डे पर दोस्तों से प्यारा मित्र।

शहीद जवान की मां को शाम तक इसका आभास तक नहीं था कि उसका होनहार बेटा अब इस दुनिया में नहीं है।

इसे भी पढ़े:- नक्सल हमले में सब इंस्पेक्टर समेत दो जवान शहीद

युगल किशोर ई-30 बटालियन का बहादुर एसआई था। वह जहां भी रहा अपने व्यवहार और कर्तव्य निष्ठा से लोगों और अफसरों का दिल जीता। 

पलारी निवासी युगल किशोर की ड्यूटी मंडला की सरहद पर थी। बकरकट्टा जंगल से सूचना मिली कि वहां नक्सली मौजूद हैं और वारदात को अंदाम देने की फिराक में लगे हैं। नक्सलियों की सूचना पर 85 की संख्या में पुलिस जवान मौके पर पहुंचे। 

युगल लीडर की भूमिका में था। हमेशा की तरह नक्सलियों ने छिपकर फायरिंग की। युगल ने जाबांजी से सामना किया। फायरिंग में वह शहीद हो गया।

इसे भी पढ़े:- यूपी: प्रतापगढ़ में 17 साल की लड़की की थी चोटी, पुलिस ने खोला राज

पुलिस सेवा में परिवार

युगल के बड़े भाई गोविंद बीजापुर में सूबेदार हैं। वे रायपुर में थे तब उन्हें खबर लगी कि उनका भाई युगल शहीद हो गया है। छोटी बहिन भी पुलिस में है। 

बताते हैं कि युगल से रक्षाबंधन को लेकर बहन से बात की थी। सुबह से ही वह दोस्तों से फ्रैंडशिप डे की बधाइयां ले और दे रहा था। एक घटना ने सबकुछ खत्म कर दिया। 

युगल का एक बेटा भी है। वह इतना छोटा है कि उसे अहसास ही नहीं है कि उसके सिर से पिता का साया उठ चुका है।

 
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
army man martyred in naxal attack in rajnand gaon

-Tags:#Friendship Day#Rakshabandhan#Chhattisgarh News
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo