Breaking News
Top

छत्तीसगढ़ः जंगल के बाद बेचा पहाड़! 155 एकड़ पहाड़ की हुई रजिस्ट्री

haribhoomi.com | UPDATED May 20 2016 12:33PM IST
राजनांदगांव. डोंगरगढ़ के बागरेकसा में 55 एकड़ बड़े झाड़ के जंगल को बेचे जाने के मामले के खुलासे के बाद अब गुडरी कनेरी गांव में 155 एकड़ जंगल और पहाड़ की रजिस्ट्री का सनसनीखेज मामला प्रकाश में आ गया है। जमीन दलालों ने अफसरों के साथ मिलकर जंगल के साथ-साथ पहाड़ को ही बेच डाला। कागजात बन गए और रजिस्ट्रियां भी करा दी गईं। सैकड़ों ग्रामीणों ने अफसरों को बताया तो हड़कंप मच गया। उल्लेखनीय है कि हरिभूमि ने हाल ही में 55 एकड़ जंगल को बेचने का खुलासा किया था।
 
खबर प्रकाशित होने के बाद एक पटवारी को सस्पेंड कर दिया गया था। वहीं तहसीलदार समेत कई अधिकारियों को नोटिस जारी हुआ। उसकी खबर पढ़ने के बाद बड़ी संख्या में ग्रामीण कलेक्टोरेट पहुंचे। तब डोंगरगढ़ के एलबी नगर राजस्व निरीक्षक मंडल में 155 एकड़ जंगल और पहाड़ को बेचे जाने के खुलासे से प्रशासनिक अमला भी भौचक हो गया। गुडरी कनेरी के सैकड़ों ग्रामीणों ने आज यहां कलेक्टोरेट पहुंचकर इस फर्जीवाड़े की पोल खोली है। ग्रामीणों की शिकायत के बाद जमीन दलालों में हड़कंप की स्थिति निर्मित हो गयी है।
 
मिली जानकारी के अनुसार डोंगरगढ़ विकासखंड के पटवारी हल्का नंबर 29 राजस्व निरीक्षक मंडल लालबहादुर नगर के अधीन आने वाले ग्राम गुडरी कनेरी में स्थित बड़े झाड़ के जंगल और पहाड़ को जमीन दलालों ने भू-माफिया को बेच दिया है। सरकारी जमीन का फर्जी पट्टा तैयार कर किए गए इस गोरखधंधे में डोंगरगढ़ के एक बड़े जमीन दलालों का नाम सामने आ रहा है। हालांकि ग्रामीणों का कहना है कि करीब दर्जनभर दलालों के रैकेट ने पिछले दो सालों के दौरान जंगल और पहाड़ की जमीन का सौदा कर शासन को करोड़ों रुपए का चूना लगा दिया है।
 
आगे की स्लाइड्स में पढ़िए, खबर से जुड़ी अन्य जानकारी - 
 
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo