Breaking News
Top

रायपुर: ट्रैफिक रूल्स तोड़ने वालों पर पुलिस का हंटर, डेढ़ हजार ड्राइविंग लाइसेंस कैंसिल

हरिभूमि ब्यूरो/ रायपुर | UPDATED Sep 25 2017 1:51AM IST
रायपुर: ट्रैफिक रूल्स तोड़ने वालों पर पुलिस का हंटर, डेढ़ हजार ड्राइविंग लाइसेंस कैंसिल

छत्तीसगढ़ में पहली बार ट्रैफिक रूल्स तोड़ने वालों पर पुलिस और परिवहन विभाग ने हंटर चलाया है। इस बार सैकड़ों नहीं, बल्कि हजारों ड्राइविंग लाइसेंस कैंसिल किए गए हैं। 

कैंसिल किए जाने वाले लाइसेंसों में सर्वाधिक रायपुर आरटीअो कार्यालय द्वारा किया गया है। वहीं जगदलपुर, सरगुजा, दुर्ग और बिलासपुर में लगातार ट्रैफिक रूल्स तोड़ने पर लाइसेंस कैंसिल किए गए हैं। 

अब तक विभिन्न जिलों में 1672 ड्राइविंग लाइसेंस कैंसिल किया गया है, जबकि 343 ड्राइविंग लाइसेंस कैंसिल होने का इंतजार कर रहे हैं। 

कैंसिल के बाद ड्राइविंग लाइसेंस को 90 से 120 दिन तक के लिए कार्यालय में रखा गया है। साथ ही बगैर लाइसेंस गाड़ी नहीं चलाने की हिदायत दी गई है।

120 दिन के लिए डीएल होता है कैंसिल

जानकारी के मुताबिक ट्रैफिक पुलिस से ड्राइविंग लाइसेंस कैंसिल की संस्तुति मिलने के बाद आरटीओ कार्यालय से चालक को नोटिस भेजा जाता है। 

सुनवाई के दौरान बार-बार ट्रैफिक रूल्स तोड़ने समेत अन्य नियमों के बारे में पूछा जाता है। उसके बाद अधिकतम 120 दिन के लिए लाइसेंस कैंसिल कर आरटीओ कार्यालय में जमा कर दिया जाता है। 

साथ ही लाइसेंस की डिटेल ऑनलाइन अपलोड कर दी जाती है। इस अवधि में चालक को गाड़ी चलाने की अनुमति नहीं होती।

यहां इतने ड्राइविंग लाइसेंस कैंसिल

जानकारी के मुताबिक रायपुर में ट्रैफिक पुलिस ने अब तक 650 ड्राइविंग लाइसेंस कैंसिल करने संस्तुति कर आरटीओ के पास भेजा। 

इनमें कार्यालय द्वारा 564 ड्राइविंग लाइसेंस कैंसिल किया गया है, जबकि 84 लाइसेंस कैंसिल की प्रक्रिया में हैं। वहीं जगदलपुर में 218 लाइसेंस कैंसिल किया है, 170 प्रक्रिया में हैं। 

दुर्ग में 350 लाइसेंस कैंसिल हो गए हैं, जबकि 42 प्रक्रिया में हैं। बिलासपुर में 472 लाइसेंस कैंसिल किया गया है, जबकि 39 लंबित हैं। अंबिकापुर में 68 लाइसेंस कैंसिल किया गया है, जबकि 6 प्रकिया में हैं।

इनके उल्लंघन पर किया जाता है कैंसिल

बगैर हेलमेट गाड़ी चलाना, बगैर रजिस्ट्रेशन गाड़ी चलाना, बगैर पीयूसी सर्टिफिकेट गाड़ी चलाना, बगैर सीट बेल्ट के गाड़ी चलाना, दोपहिया पर तीन सवारी बैठाना, शराब पीकर गाड़ी चलाना, जेब्रा लाइन क्रास करने पर, मोबाइल पर बात कर गाड़ी चलाते पकड़े जाने पर पहले जुर्माना किया जाता है। 

उसके बाद ट्रैफिक पुलिस ड्राइविंग लाइसेंस जब्त कर लेती है, फिर कैंसिल करने के लिए संस्तुति कर आरटीओ कार्यालय भेजा जाता है।

अनुमति नहीं

परिवहन विभाग के सहायक आयुक्त बीएल ध्रुव ने कहा कि लगातार ट्रैफिक रूल्स तोड़ने वाले चालकों के ड्राइविंग लाइसेंस जब्त कर कैंसिल के लिए आरटीओ में भेजते हैं। 

लाइसेंस कैंसिलेशन अवधि में चालक को गाड़ी चलाने की अनुमित नहीं होती।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo