Breaking News
Top

कराना चाहते हैं अपना नंबर पोर्ट? ये है पूरा तरीका

हर्षित कुमार हर्ष | UPDATED Nov 5 2017 5:04AM IST
कराना चाहते हैं अपना नंबर पोर्ट? ये है पूरा तरीका

रिलायंस कम्युनिकेशन के वॉयस कॉल सर्विस बंद करने की घोषणा के बाद से, रिलायंस के सभी उपभोक्ता को अपने फोन की सेवा जारी रखने के लिए अपना नंबर दूसरे ऑपरेटर में पोर्ट कराना होगा।

रिलायंस के 4G डेटा सर्विस इस्तेमाल करने वाले उपभोक्ता को अपना नंबर पोर्ट नहीं करवाना पड़ेगा। रिलायंस की 4G डेटा सर्विस सभी सर्किल में जारी रहेगी। ऐसे में रिलायंस के उपभोक्ताओं को नंबर पोर्ट कराने में कुछ समस्याओं का सामना भी करना पड़ सकता है। 

ऐसे करवायें अपना नंबर पोर्ट-

चलिए हम बताते हैं कि आप अपना नंबर किस तरह से पोर्ट करवा सकते हैं। बस आपको कुछ आसान स्टेप्स का पालन करना पडेगा, जिसके बाद आपको अपना नंबर पोर्ट कराने में किसी तरह की समस्या का सामना नहीं करना पडेगा।

यह भी पढ़ें- बुक कराया है जियोफोन? हो सकते हैं मायूस

सबसे पहले यूपीसी कोड करें जेनरेट

यूपीसी कोड जेनरेट करने के लिए आपको अपने नंबर से एक मैसेज 1900 पर भेजना होता है। मैसेज भेजने के लिए आपको PORT <अपने10-अंक का मोबाइल नंबर> टाइप करना होगा। मैसेज टाइप करने के बाद इस मैसेज को 1900 पर भेज दें। मैसेज भेजने के कुछ देर के बाद 190 नंबर से आपको यूपीसी कोड एक्सपायरी डेट के साथ मिलेगा।

जरूरी दस्तावेज रखें साथ

नंबर को पोर्ट कराने के लिए आपको कुछ जरूरी दस्तावेज- फोटो आइडी प्रूफ, अड्रेस प्रूफ, एक पास्पोर्ट साइज का फोटोग्राफ, पिछले बिल की कॉपी (अगर पोस्ट उपभोक्ता हैं) रखना जरूरी होता है। ध्यान रहे कि पोस्टपेड का पूरा बिल जमा हो।

टेलीकॉम ऑपरेटर के शोरूम से नया सिम लें

आप अपने यूपीसी कोड और जरूरी दस्तावेज लेकर जिस ऑपरेटर में अपना नंबर पोर्ट करना चाहते हैं, उसके शोरूम विजीट करें। शोरूम में फार्म भरके नया एमएनपी सिम लें। फार्म में आपको यूपीसी कोड भरना जरूरी होता है। ध्यान रहे कि यूपीसी कोड एक्सपायर न हुआ हो।

यह भी पढ़ें- Iphone X के लिए दिखी गजब की दिवानगी, ढ़ोल-नगाड़ों के साथ फोन बुक करने पहुंचे लोग

अपने प्लान का चयन करें

शोरूम में फार्म भरते समय आपको एमएनपी प्लान में से एक प्लान का चयन करना होता है। प्लान का चयन करना पोस्टपेड और प्री-पेड दोनों उपभोक्ताओं के लिए जरूरी होता है।

प्रोसेसिंग टाइम

एमएनपी रिक्वेस्ट को प्रोसेस होने में अधिकतम 7 दिन लगता है। रिक्वेस्ट प्रोसेस होने के बाद आपको अपना नया सिम फोन में डाल कर टेलीवेरिफिकेशन के जरिए एक्टिवेट करना पड़ता है। जैसे ही आप टेलीवेरिफिकेशन को पूरा करते हैं 30 मिनट के बाद आपका वही नंबर दूसरे ऑपरेटर की सेवाओं के साथ चालू हो जाएगा। 

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
mobile number portability a step by step guide on how to retain your number

-Tags:#Reliance Communication#TRAI#MNP#Telecom Operators#Port#
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo