Hari Bhoomi Logo
गुरुवार, सितम्बर 21, 2017  
Breaking News
कोलकता वनडे: भारत ने जीता टॉस, किया बल्लेबाजी का फैसलाजम्मू कश्मीर: पुलवामा जिले के त्राल में पुलिस पर ग्रेनेड से हमला, 3 नागरिकों की मौतअरुण जेटली ने कांग्रेस पर साधा निशाना, कहा- भ्रष्टाचार गुजरे जमाने की बात, GST से महंगाई काबू मेंसुनंदा पुष्कर केस में 8 हफ्ते में चार्जशीट दायर करे दिल्ली पुलिस : हाईकोर्टजम्मू कश्मीर के अरनिया सेक्टर में पाकिस्तान ने फिर तोड़ा सीजफायर का उल्लंघनटाइम्स स्क्वायर पर बोले राहुल गांधी- असहिष्णुता से बिगड़ी भारत की छविदुर्गा पूजा और मुहर्रम पर आज आएगा कलकत्ता हाईकोर्ट का फैसला, कल लगाई थी ममता सरकार को फटकारआज कमल हासन से मिलेंगे केजरीवाल, राजनीतिक भविष्य पर होगा फैसला
Top

दूरसंचार कंपनियों की आय 10 प्रतिशत घटेगी: रिपोर्ट

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Aug 2 2017 1:14AM IST
दूरसंचार कंपनियों की आय 10 प्रतिशत घटेगी: रिपोर्ट

दूरसंचार क्षेत्र की दिक्कतें चालू साल में भी दूर होती नहीं दिखतीं। एक रिपोर्ट में कहा गया है कि चालू वित्त वर्ष में दूरसंचार कंपनियों के राजस्व में 10

प्रतिशत की कमी आएगी और अंतत: क्षेत्र में मौजूदा एकीकरण पूरा होने के बाद तीन शीर्ष दूरसंचार कंपनियों के पास 85 प्रतिशत बाजार हिस्सेदारी होगी।       

रेटिंग एजेंसी स्टैंडर्ड एंड पूअर्स के नोट में कहा गया है कि हम दूरसंचार क्षेत्र में एकीकरण की उम्मीद कर रहे हैं। अंतत: तीन शीर्ष कंपनियों (वोडाफोन-आइडिया, एयरटेल और जियो) के पास बाजार के 75 से 85 प्रतिशत राजस्व का नियंत्रण होगा।

इसे भी पढ़े:-दमदार लुक के साथ Micromax ने पेश किया नया स्मार्टफोन Selfie 2, जानिए फीचर्स

रिपोर्ट में कहा गया है कि बाजार में आक्रामक खेल प्रतिद्वंद्वियों के लिए काफी महंगा बैठ रहा है। दूरसंचार कंपनियां बाजार हिस्सेदारी हासिल करने की कड़ी प्रतिस्पर्धा में जमकर नकदी खर्च कर रही हैं।

रेटिंग एजेंसी के क्रेडिट विश्लेषक आशुतोष शर्मा ने कहा कि दूरसंचार क्षेत्र के मौजूदा संघर्ष में ‘हंगर गेम'मूवी के सभी तत्व हैं। प्रतिद्वंद्विता, ताकत के इस्तेमाल और बाजार से कमजोर का बाहर करने के खेल पर निवेशक, फाइनेंसर, विश्लेषकों सभी में बेचैनी है।

इसे भी पढ़ें: 9 अगस्त को लॉन्च होगा Lenovo K8 Note, दमदार होेंगे फीचर्स

उन्होंने कहा कि दूरसंचार क्षेत्र हमेशा से काफी प्रतिस्पर्धा है, जिसमें दूरसंचार कंपनियां बाजार हिस्सेदारी हासिल करने का प्रयास कर रही हैं। पिछले साल के मध्य में रिलायंस जियो के प्रवेश के बाद से कंपनियों पर दबाव और बढ़ा है।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
income of telecom companies will reduce by 10 percent

-Tags:#Telecom Companies#Current Financial Year
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo