Breaking News
Top

एप्पल ने भारत के लिए खोला दिल, चीन और कोरिया हुए 'सौतेले'

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Oct 11 2017 7:00PM IST
एप्पल ने भारत के लिए खोला दिल, चीन और कोरिया हुए 'सौतेले'

स्मार्टफोन बनाने वाली दुनिया की सबसे मशहूर कंपनी 'एप्पल' के फोन खरीदने के लिए अब आपको जेबें ढ़ीलीं नहीं करनी पड़ेंगी। 

'एप्पल' की नजर विश्व की सबसे प्रगतिशील बाजार, भारत में 'मेनुफेक्चरिंग युनिट' लगाने पर है। एप्पल अब भारत में ही फोन को 'असेंबल' करना शुरु कर सकती है, उसने युनिट लगाने का प्रपोजल केन्द्र सरकार को सौंपा है जिसपर केन्द्र सरकार विचार कर रही है।

'एप्पल' चाहती है कि भारत सरकार मेनुफेक्चरिंग और रिपेयरिंग युनिट लगाने के लिए 15 वर्ष के लिए रियायत प्रदान करें। एप्पल अपने फोन के पार्ट्स खुद नहीं बनाती है, वो कान्ट्रेक्ट मेनुफेक्चर्रस से 'पार्टस' लेकर असेंबल करती है। एप्पल ने पार्ट्स पर लगने वाले स्टाम्प ड्यूटी के लिए सरकार से रियायत मांगी है।

भारत में ही नहीं विश्व भर में एप्पल के स्मार्टफोन का क्रेज है। एप्पल के पास भारत में अपना कोई होलसोल शोरूम भी नहीं है। एप्पल अपने सारे प्रॉडक्ट्स 'रेडिंग्टन' और 'इनग्राम माइक्रो' जैसे डिस्ट्रीब्यूटर की सहायता से बाजार में बेचता है।

अगर केन्द्र सरकार एप्पल के मांगों को मान लेती है तो भारतीय ग्राहकों को एप्पल के स्मार्टफोन कम कीमत पर उपलब्ध हो सकती है।

इससे पहले एशिया में एप्पल चीन और कोरिया में मैनुफैक्‍चिंग करता था। लेकिन अब भारत में भी यह काम शुरू होने के बाद एशिया में भारत के लिहाज यह एक बड़ी उपलब्धि है।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
apple phones will be available on low cost

-Tags:#Apple#Smartphone#Cheaper#Manufacture
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo