Breaking News
Top

अब दुर्घटना में नहीं गवानी पड़ेगी जान, यह है सरकार का नया फैसला

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Nov 5 2017 10:05PM IST
अब दुर्घटना में नहीं गवानी पड़ेगी जान, यह है सरकार का नया फैसला

भारत में सड़क दुर्घटनाओं में मरने वालों की संख्या प्रतिवर्ष बढ़ती ही जा रही है। राष्ट्रीय क्राइम रिकार्ड ब्यूरो के आंकड़ो पर यदि गौर किया जाए तो केवल उत्तर प्रदेश में हर घंटे दो लोग सड़क दुर्घटना में मारे जाते हैं। इन सभी मौतों के पीछे सड़क सुरक्षा नियमों में बरती गई लापरवाही होती है।

हमारे देश में केवल लग्जरी कारों में एयरबैग, सीट बेल्ट रिमांइडर, स्पीड वॉर्निंग सिस्टम, रिवर्स पार्किंग सेंसर, मैनुअल ओवराराइड सिस्टम जैसे फीचर होते हैं।

कम बजट वाले कारों में ये सुविधाएं उपलब्ध नहीं होने के कारण अन्य देशों के मुकाबले सड़क दुर्घटनाओं में होने वाले मौतों की संख्यां में जबरदस्त इजाफा देखने को मिल रहा है।

यह भी पढ़ें- फट सकता है आपका भी स्मार्टफोन, कभी न करें ये गलतियां

जुलाई 2019 से देश भर में हर तरह की कारों में एयरबैग, सीट बेल्ट रिमांइडर, स्पीड वॉर्निंग सिस्टम, रिवर्स पार्किंग सेंसर, मैनुअल ओवराराइड सिस्टम जैसे फीचर जरूरी होने जा रहे हैं। सड़क एवं परिवहन मंत्रालय ने इस पर मुहर लगा दी है। उम्मीद है कि अगले कुछ दिनों में इसकी नोटिफिकेशन भी जारी हो जाएगी। 

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय का मानना है कि ऐसा करने से हादसों में कमी आएगी। नई कारों में ऐसा सिस्टम फिट किया जाएगा जो कि स्पीड 80 किलोमीटर पार करते ही ऑडियो अलर्ट देने लगेगा। स्पीड 100 किलोमीटर से ज्यादा होने पर अलर्ट की आवाज और भी तेज हो जाएगी।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
airbag seat belt sensor speed sensors will be mandatory from 2019

-Tags:#Airbag#Road accidents#features#Safety features#Cars#
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo