Top

रहस्य: ये है एकलौता इस शिव मंदिर, जहां बिना 'नंदी' के विराजमान हैं 'शिव'

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Nov 23 2017 8:03PM IST
रहस्य: ये है एकलौता इस शिव मंदिर, जहां बिना 'नंदी' के विराजमान हैं 'शिव'

शिव की महिमा को कौन नहीं जनता है। किसी भी मंदिर में भगवान की शिव की प्रतिमा के साथ उनका प्रिय वाहन नंदी रहते ही हैं। प्रायः सभी शिव मंदिरों में भगवान शिव की प्रतिमा के सामने ही नंदी बैल देखने में आता है।

शास्त्रीय नियन के अनुसार सभी शिव मंदिरों में शिव की प्रतिमा के सामने नंदी का होना अनिवार्य हो जाता है। लेकिन शायद आपने ऐसा नहीं सुना होगा शिव मंदिर में भगवान शिव के सामने उनका वाहन नंदी ना हो। आज हम आपको एक ऐसे ही शिव मंदिर के बारे में बता रहे हैं जहां नंदी भगवान शिव के सामने उपस्थित नहीं हैं।

इसे भी पढ़ें : सामुद्रिक शास्त्र: ऐसे 'वक्ष स्थल' वाली स्त्रियों में होते हैं ये विलक्षण गुण

कपालेश्वर शिव मंदिर 

कपालेश्वर शिव मंदिर बहुत ही प्राचीन मंदिर है। यह मंदिर गोदावरी नदी के तट पर स्थित है। शिवजी के प्रसिद्ध बारह ज्योतिर्लिंगों के बाद यदि किसी ज्योतिर्लिंग महत्व है तो वह कपालेश्वर शिवलिंग है। दरअसल इसका इसका कारण प्राचीन मान्यता है। इस मान्यता के अनुसार स्वयं शिव जी हे नहीं चाहते थे कि उनके सामने नंदी बैठें। जिस कारण से भगवान शिव के सामने नंदी की स्थापना नहीं हुई। 

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
ye hai ekamatra shiv mandir jahan unake vahan nandi nahin hai virajaman

-Tags:#Shiv Temple#Twelve Jyotirlinga#Jyotirlinga#Kapaleshwar Shiva Temple
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo