Top

बेटी को कभी न दें ये एक गिफ्ट, हो जाएंगे कंगाल

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Nov 29 2017 6:34PM IST
बेटी को कभी न दें ये एक गिफ्ट, हो जाएंगे कंगाल

शास्त्रों के अनुसार घर की बेटी को लक्ष्मी का रूप माना जाता है। लक्ष्मी स्वरुप बेटी का ब्याह करने प्रत्येक पिता का कर्त्तव्य होता है। साथ ही माता-पिता को बेटी के होने वाले परिवार और रिश्तेदारों को शादी में किसी प्रकार की कोई दिक्कत ना हो इस चिंता करते हैं।

आज कल बेटी की शादी में माता-पिता सभी रस्मों-रिवाजों को पूरा करने के पश्चात् उनकी एक इच्छा जरूर रहती है। ये इच्छा है प्यारी बेटी को बेस्ट गिफ्ट देना। आजकल बेटी की बिदाई में ढेर सारे तोहफे तो जाते ही हैं लेकिन वो एक खास तोहफा भी उनमें होता है जो माता-पिता खास अपनी बेटी को देते हैं।

इसे भी पढ़ें: चाणक्य नीति: इन दो कारणों से व्यक्ति पल-पल सहता है अपमान

गणेश की मूर्ति 

आजकल कई लोग अपनी बेटी को विदाई के वक्त गणेशजी की मूर्ति भेंट में देते हैं। हिन्दू धर्म में गणेश जी को विघ्नहर्ता कहा गया है। यानि वे जहां होंगे वहां कभी कोई विघ्न नहीं आने पाएगा। गणेश जी को शुभता का प्रतीक भी माना जाता है बस इसी विश्वास से माता-पिता बेटी को गणेश मूर्ति तोहफे में देते हैं।

इसे भी पढ़ें: ज्योतिष शास्त्र: ''मंगल'' का ''तुला'' राशि में गोचर, इन 4 राशियों के लिए है भाग्योदय का समय

 लेकिन अगर आप भी अपनी बेटी को ऐसा ही तोहफा देने की सोच रहे हैं तो अपना विचार तुरंत बदल लें। दरअसल शास्त्रों के अनुसार बेटियां घर में लक्ष्मी का स्वरूप मानी जाती हैं और भगवान गणेश और मां लक्ष्मी का एकसाथ होना धन के आगमन का संकेत होता है। ऐसे में अगर आप घर से जाती हुई लक्ष्मी को गणेश जी भी दे देंगे तो बेटी के मायके को धन की बड़ी हानि होती है। वह जाती हुए घर की सुक-समृद्धि साथ ही ले जाती है।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo