Hari Bhoomi Logo
सोमवार, सितम्बर 25, 2017  
Breaking News
Top

इस रत्न को पहनने से बढ़ती है पौरुष क्षमता

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Aug 26 2017 5:44PM IST
इस रत्न को पहनने से बढ़ती है पौरुष क्षमता

ज्योतिष शास्त्र में रत्न एक अहम स्थान रखता है। रत्नों को धारण करने से सुख-सौभाग्य के साथ-साथ शारीरिक स्वास्थ्य भी उत्तम रहता है। ऐसा ही एक रत्न है जिसके बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं। 

इसे भी पढ़ें: धातु से बने आभूषण पहनते हैं, तो जान लें इसके नुकसान

जिसके धारण करने आदमी से न केवल भाग्यशाली बनता है बल्कि उसले बल-पौरुष में भी अतुलनीय वृद्धि होती है। इस उपरत्न का नाम कहरुवा है जिसे कर्पूर, वृक्षनिर्यासमणि आदि नामों से भी जाना जाता। 

यह वनस्पति जाति का उपरत्न है पत्थर के अन्य रत्नों की तरह इसमें भी चमक होती है। लेकिन इसका वजन अन्य रत्नों की अपेक्षा हल्का होता है। कहरूवा को धारण करने से व्यक्ति की पौरूष शक्ति में वृद्धि होती है। 

इसे भी पढ़ें: हर कार्य में सफलता दिलाता है हाथ में पहना हुआ 'फिरोजा'

यह वीर्यवर्धक स्टोन के रूप में भी जाना जाता है। साथ ही हृदय रोगों में भी लाभ पहुंचाता है। यदि हृदय रोग नहीं है तो इसे धारण करने से हृदय रोग की संभावना कम हो जाती है। 

हृदय की अनियंत्रित धड़कनों को नियंत्रित करता है। रक्त, पित्त, प्रदर, खूनी बवासीर और आतों की कमजोरी दूर करता है। त्वचा संबंधी रोगों को ठीक करके घाव शीघ्रता से भरता है। पीलिया होने पर भी इसे पहना जा सकता है। इसके अलावे काली खांसी, दमा और श्वांस रोग, सर्दी-जुकाम में कहरूवा विशेष लाभकारी होता है।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
wearing kahruva increases the persons virgin power

-Tags:#Astrology#Gemstones#Palmistry#Kahruva Stone
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo