Breaking News
Top

वास्तुशास्त्र: क्या मतलब है अगर बच्चा अचानक झाड़ू के साथ खेलने लगे

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Sep 26 2017 5:15PM IST
वास्तुशास्त्र: क्या मतलब है अगर बच्चा अचानक झाड़ू के साथ खेलने लगे

वास्तुशास्त्र के अनुसार घर में झाड़ू रखने के स्थान से लेकर उपयोग करने तक के लिए कुछ विशेष नियम बनाए गए हैं। जिसका पालन करने से घर-परिवार में खुशहाली का वातावरण बना रहता है।

झाड़ू को अमूमन लोग केवल घर की सफाई के काम में आने वाली वस्तु ही समझते हैं, लेकिन वास्तुशास्त्र में झाड़ू को लक्ष्मी का प्रतीक माना जाता है। वैदिक मान्यता के अनुसार घर में झाड़ू रखने से लेकर उपयोग करने तक के विशेष नियम हैं।

इसे भी पढ़ें: परिवार के सदस्यों की तस्वीर इस दिशा में न लगाएं, छिन जाएंगी सारी खुशियां

घरों में ऐसा देखा जाता है कि बच्चे खिलौने छोड़कर झाड़ू के साथ खेलने लगते हैं। कई बार ऐसा भी होता है कि बच्चा बड़ों की नकल करते हुए झाड़ू उठाकर उससे सफाई करने का प्रयास करते हैं।

इसे भी पढ़ें: वास्तुशास्त्र: ऐसे न रखें घर में एक्वेरियम वरना झेलेंगे आर्थिक तंगी

अगर घर का कोई बच्चा ऐसा करता है तो वास्तु शास्त्र के अनुसार किसी अतिथि के आने का संकेत है। साथ ही यह भी माना जाता है कि आने वाले अतिथि के द्वारा आर्थिक लाभ होगा या किसी अन्य प्रकार से धन लाभ होगा। सीधे तौर पर कह सकते हैं कि माँ लक्ष्मी की कृपा आप पर होने वाली है।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
vastushastra what happens when child suddenly starts brooming

-Tags:#vastu shastra#bachhe ka jhaadu se khelna#mata lakshmi#jhadu
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo