Breaking News
Top

वास्तु शास्त्र: कछुए वाली अंगूठी पहनने के ये हैं फायदे, पहने हैं तो जरूर जान लें इन बातों को

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Nov 2 2017 5:45PM IST
वास्तु शास्त्र: कछुए वाली अंगूठी पहनने के ये हैं फायदे, पहने हैं तो जरूर जान लें इन बातों को

ज्योतिष शास्त्र में हर रत्न वाली अंगूठी किसी ना किसी ग्रह से संबंध रखता है। आज-कल लोग ज्योतिषी की सलाह पर रत्नों को अंगूठी या ब्रेसलेट में मढ़वाकर हाथ या गले में धरण करते हैं। ये रत्न भिन्न-भिन्न रंगों के होते हैं। इन दिनों एक अंगूठियां  लोगों के हाथों में दिखती है जो कि कछुए वाली अंगूठी है।

बड़े-बड़े फिल्म स्टार भी इस कछुए वाली अंगूठी को धारण करते हैं। कछुए वाली इस अंगूठी को वास्तु शास्त्र में शुभ माना गया है। यह अंगूठी व्यक्ति के जीवन की कई दोषों को शांत करता है। इसके अलावे इस अंगूठी को धारण करने से आत्मविश्वास बढ़ता है।

इसे भी पढ़ें: वास्तु शास्त्र: घर के इस दिशा में रखें ये एक चीज, नौकरी और व्यापर में दिलाएगा खूब तरक्की

शास्त्रों के अनुसार कछुआ को सकारात्मकता और उन्नति का प्रतीक माना गया है। कछुआ को भगवान विष्णु का अवतार माना गया है। क्योंकि समुद्र मंथन के समय कछुआ के साथ लक्ष्मी जी भी उत्पन्न हुईं थीं। इसलिए वास्तु शास्त्र में कछुआ को इतना महत्व दिया जाता है। इसके अलावे कछुआ को धन के देवी के साथ भी जोड़कर देखा गया है। जो कि धैर्य, शांति, निरंतरता और समृद्धि का प्रतीक है। 

कब पहने

शुक्रवार के दिन ही इस अंगूठी को खरीदें और लक्ष्मी जी की मूर्ति के सामने कुछ देर रख दें। फिर इसे दूध या गंगाजल से अभिषिक्त कर धारण करें। अंगूठी धारण करने के क्रम में लक्ष्मी के बीज मंत्र का जाप कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: वास्तु शास्त्र: इस दिशा में भूलकर भी न लगाएं 'मनी प्लांट' छिन जाएगा हर सुख

बरतें इन सावधानियों को 

इस अंगूठी को पहनने के बाद इसे घुमाना नहीं चाहिए। इसे घुमाने से इसकी दिशा बदलती है जो धन के आने में बाधा उत्पन्न करता है।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
turtle ring benifits in vastu shastra

-Tags:#Turtle ring#Vastu Shastra#Importance of tortoise in Vastu
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo