Hari Bhoomi Logo
गुरुवार, सितम्बर 21, 2017  
Breaking News
कोलकता वनडे: भारत ने जीता टॉस, किया बल्लेबाजी का फैसलाजम्मू कश्मीर: पुलवामा जिले के त्राल में पुलिस पर ग्रेनेड से हमला, 3 नागरिकों की मौतअरुण जेटली ने कांग्रेस पर साधा निशाना, कहा- भ्रष्टाचार गुजरे जमाने की बात, GST से महंगाई काबू मेंसुनंदा पुष्कर केस में 8 हफ्ते में चार्जशीट दायर करे दिल्ली पुलिस : हाईकोर्टजम्मू कश्मीर के अरनिया सेक्टर में पाकिस्तान ने फिर तोड़ा सीजफायर का उल्लंघनटाइम्स स्क्वायर पर बोले राहुल गांधी- असहिष्णुता से बिगड़ी भारत की छविदुर्गा पूजा और मुहर्रम पर आज आएगा कलकत्ता हाईकोर्ट का फैसला, कल लगाई थी ममता सरकार को फटकारआज कमल हासन से मिलेंगे केजरीवाल, राजनीतिक भविष्य पर होगा फैसला
Top

गणेश चतुर्थी: ये है गणपति विसर्जन का शुभ मुहूर्त

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Aug 29 2017 3:04PM IST
गणेश चतुर्थी: ये है गणपति विसर्जन का शुभ मुहूर्त

भगवान गणेश को मुख्य रूप से बुद्धि देने वाला देवता माना गया है। इसके अलावा गणपति बप्पा को सफलता और समृद्धि प्रदान करने वाला भी माना गया है।

इसे भे पढ़ें: गणेश चतुर्थी: जानें, इस गणेश चतुर्थी कौन-कौन योग बन रहे हैं शुभ

भक्त गणेश चतुर्थी में इस वजह से विघ्नविनाशक को दस दिनों तक पूजा-अर्चना करते हैं ताकि बाप्पा मोरया की कृपा उनपर हमेशा बनी रहे। ऐसा माना जाता है कि गणेश उत्सव दौरान भगवान गणेश कैलाश पर्वत से आकर भक्तों को आशीर्वाद देते हैं।

गणेश चतुर्थी के दौरान 10 दिनों तक भक्त पूरी आस्था के साथ भगवान गणेश की आराधना करते हैं और विसर्जन के दिन ढोल-नगाड़े के साथ उनका विसर्जन करते हैं।

विसर्जन की पूजा में धूप-दीप, मोदक नैवेद्य आदि प्रमुख रूप से शमिल किया जाता है। विसर्जन के लिए जाने से पहले कोई एक व्यक्ति गणेश की प्रतिमा को थोड़ा आगे लाता है जिसका अर्थ होता है कि अब भगवान को विसर्जन के लिए ले जा सकते हैं।  

इस दौरान भक्त उनपर अक्षत की बौछार करते हैं साथ ही भक्त अपने हाथ पर दही रखकर कहते हैं कि गणपति बाप्पा एक बार फिर घर आना। 

इसे भे पढ़ें: गणेश चतुर्थी: इस राशि के लोग इस बार ऐसे करें 'गणपति बप्पा' को खुश

इसके अलावे भक्तगण विसर्जन के लिए जाते वक्त 'गणपति बाप्पा मोरया' इस मंत्र का उच्चारण करते जाते हैं। भक्त गणपति की मंगलयात्रा के लिए जाते वक्त ये कामना करते जाते हैं कि पूरे साल भर गणपति की कृपा बनी रहे। 
गणेश विसर्जन के मुहूर्त-
सुबह का मुहूर्त- सुबह 9:32 से 2:11 दोपहर तक 
दोपहर का मुहूर्त- 3:44 से 05:17 तक 
शाम का मुहूर्त- 8:17 से 9:44 तक
रात का मुहूर्त- 11:23 बजे   
गणेश प्रतिमा विसर्जन की तिथि- 4 सितंबर 2017 को चतुर्दशी तिथि सुबह 12:14 से शुरू होगी। 5 सितंबर को चतुर्दशी तिथि 12:41 बजे समाप्त हो जाएगी         
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
this ganesh chatuthi auspicious time for ganapati immersion

-Tags:#Ganesh Chaturthi#Shiddhivinayak#Gajanana#Mangalmurti
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo