Hari Bhoomi Logo
गुरुवार, सितम्बर 21, 2017  
Breaking News
कोलकता वनडे: भारत ने जीता टॉस, किया बल्लेबाजी का फैसलाजम्मू कश्मीर: पुलवामा जिले के त्राल में पुलिस पर ग्रेनेड से हमला, 3 नागरिकों की मौतअरुण जेटली ने कांग्रेस पर साधा निशाना, कहा- भ्रष्टाचार गुजरे जमाने की बात, GST से महंगाई काबू मेंसुनंदा पुष्कर केस में 8 हफ्ते में चार्जशीट दायर करे दिल्ली पुलिस : हाईकोर्टजम्मू कश्मीर के अरनिया सेक्टर में पाकिस्तान ने फिर तोड़ा सीजफायर का उल्लंघनटाइम्स स्क्वायर पर बोले राहुल गांधी- असहिष्णुता से बिगड़ी भारत की छविदुर्गा पूजा और मुहर्रम पर आज आएगा कलकत्ता हाईकोर्ट का फैसला, कल लगाई थी ममता सरकार को फटकारआज कमल हासन से मिलेंगे केजरीवाल, राजनीतिक भविष्य पर होगा फैसला
Top

सूर्य ग्रहण पर 100 साल बाद आया है ऐसा संयोग, खुलेंगे बंद किस्मत के ताले

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Aug 21 2017 6:34PM IST
सूर्य ग्रहण पर 100 साल बाद आया है ऐसा संयोग, खुलेंगे बंद किस्मत के ताले

21 अगस्त आज  सूर्य ग्रहण को तकरीबन 100 साल बाद ऐसा संयोग बन रहा है जब वर्ष 2017 का दूसरा बड़ा सूर्य ग्रहण और होगा। ज्योतिषशास्त्र की दृष्टि से देखा जाए तो ग्रहण एक नकारात्मकता है जो कई प्रकार का संकट पैदा करता है।

ये भी पढ़ें- 21 अगस्त को है साल का दूसरा बड़ा सूर्य ग्रहण, ऐसे बचाएं खुद को

लेकिन आज  लगने वाला सूर्य ग्रहण कई प्रकार के संयोग भी अपने साथ लेकर आ रहा है। 

लेकिन माना जा रहा है कि यह अदृश्य रहेगा। यह भारत में दिखाई नहीं देगा। लेकिन आसमान में अंधेरा जरूर छाया रहेगा। आज  को लगने वाला सूर्य ग्रहण इसलिए और भी खास है क्योंकि यह सोमवार के दिन हो रहा है। 
 
वैज्ञानिकों का मानना है कि इस खगोलीय घटना का आम लोगों पर असर भी जरूर पड़ेगा। माना जा रहा है कि वर्ष 1918 के बाद पहली बार 100 साल बाद ऐसा अवसर आया है जब यह सूर्य ग्रहण सम्पूर्ण अमेरिकी महाद्वीप में पूर्ण दिखाई देगा। इस दिन अमावस्या भी रहेगी।
 
 
इस ग्रहण कि कुल अवधि 5 घंटे 18 मिनट रहेगी। भारतीय समयानुसार रात 10:16 से मंगलवार दि॰ 22.08.17 रात 02:34 के मध्य भूगोल पर दिखाई देगा।
 
इस दिन अमावस्या होने के कारण इस ग्रहण का धार्मिक महत्व भी बढ़ जाता है इसलिए इस दिन यदि आप दान आदि करते हैं तो ग्रहण के प्रभाव से मुक्ति पा सकते हैं। 
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo