Hari Bhoomi Logo
गुरुवार, सितम्बर 21, 2017  
Breaking News
Top

सोमावती अमावस्या: इन 5 उपाय से दूर हो जाएगा पितृ दोष

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Aug 26 2017 3:28PM IST
सोमावती अमावस्या: इन 5 उपाय से दूर हो जाएगा पितृ दोष

सोमवार को पड़ने वाली अमावस्या को सोमवती अमावस्या कहते हैं। ये वर्ष में लगभग एक अथवा दो ही बार पड़ती है। इस अमावस्या का हिन्दू धर्म में विशेष महत्त्व होता है।

ऐसा माना जाता है कि पवित्र नदियों में स्नान करने से पितरों कि आत्माओं को शांति मिलती है। इस दिन को पितृ दोष निवारण के लिए भी महत्वपूर्ण माना गया है। अगर आप भी पितृ दोष से पीड़ित हैं तो हरिभूमि द्वारा बतलाये गए कुछ उपाए को अपनाकर इस दोष से मुक्ति पा सकते हैं...

उपाय 1 

सोमवती अमावस्या के दिन प्रात: पीपल के वृक्ष के पास जाइए, उस पीपल के वृक्ष को एक जनेऊ दीजिए और एक जनेऊ भगवान विष्णु के नाम भी उसी पीपल को अर्पित कीजिए। फिर पीपल और भगवान विष्णु की प्रार्थना कीजिए। तत्पश्चात 108 बार पीपल वृक्ष की परिक्रमा करके, शुद्ध रूप से तैयार की गई एक मिठाई पीपल के वृक्ष को अर्पित कीजिए।

ये भी पढ़ें: 21 अगस्त को है साल का दूसरा बड़ा सूर्य ग्रहण, ऐसे बचाएं खुद को

परिक्रमा करते  वक्त बोलें ये मंत्र :- * ॐ नमो भगवते वासुदेवाय नमः

परिक्रमा करते समय इस मंत्र का जाप करते जाइए। 108 परिक्रमा पूरी होने के बाद पीपल और भगवान विष्णु से प्रार्थना करते हुए अपने हाथों हुए जाने-अनजाने अपराधों की क्षमा मांगिए। सोमवती अमावस्या के दिन की गई इस पूजा से जल्दी ही आपको उत्तम फलों की प्राप्ति होने लगती है।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo