Breaking News
Top

शरद पूर्णिमा 2017 : अमृत वाली खीर खानी हो तो करें ये काम

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Oct 5 2017 6:09PM IST
शरद पूर्णिमा 2017 : अमृत वाली खीर खानी हो तो करें ये काम

Sharad Purnima 2017 : Amrit Wali Kheer Khani Ho To Karen Ye Kaam

शरद पूर्णिमा अश्विन मास की पूर्णिमा को मनाया जाता है। इस साल शरद पूर्णिमा 5 अक्टूबर को मनाया जाएगा। इस रात चन्द्रमा 16 कलाओं से परिपूर्ण होकर अमृत वर्षा करता है। इसलिए इस रात को खीर बनाकर खुले आसमान के तले रखा जाता है।

इसे भी पढ़ें: मंदिर में भूलकर भी न रखें ये 4 मूर्तियां, छिन जाएगा हर सुख

मान्यता है कि शरद पूर्णिमा की रात को चन्द्रमा पृथ्वी के बहुत नजदीक होता है। पुराणों में ऐसी कथा आती है कि इस रात भगवान कृष्ण ने गोपियों के साथ महारास रचा था। इसलिए शरद पूर्णिमा को रास पूर्णिमा भी कहा जाता है।

  • ऐसे लगाएं खीर का भोग

इस दिन व्रत रख कर विधि-विधान से लक्ष्मीनारायण का पूजन करें। खीर बनाकर रात में खुले आसमान के नीचे ऐसे रखें ताकि चन्द्रमा की रोशनी खीर पर पड़े। अगले दिन स्नान करके भगवान को खीर का भोग लगाएं। फिर तीन ब्राह्मणों या कन्याओं को प्रसाद रूप में इस खीर को दें और अपने परिवार में खीर का प्रसाद बांटे। इस खीर को खाने से अनेक प्रकार के रोगों से छुटकारा मिलता है।

इसे भी पढ़ें: इस धनतेरस अपनाएं ये टोटके, रातों-रात बदल जाएगी किस्मत

  • बरसती है लक्ष्मी की कृपा 

 शरद पूर्णिमा की रात को जागने का विशेष महत्व दिया गया है।  ऐसी मान्यता है कि शरद पूर्णिमा की रात माता लक्ष्मी यह देखने के लिए घूमती कि कौन जाग रहा है। जो जगता है उसका माता लक्ष्मी कल्याण करती हैं।  

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo