Breaking News
Top

ज्योतिष: 'शनि' से प्रभावित होते हैं 8 मूलांक वाले जातक, इन मुसीबतों का करना पड़ता है सामना

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Nov 30 2017 11:15AM IST
ज्योतिष: 'शनि' से प्रभावित होते हैं 8 मूलांक वाले जातक, इन मुसीबतों का करना पड़ता है सामना

ज्योतिष के अनुसार 8 अंक शनि का माना जाता है। ऐसे में जिन व्यक्तियों का जन्म 8,17 और 26 तारीख को होता है। उनका मूलांक 8 होता है। इस अंक का स्वामी ग्रह शनि होता है। ज्योतिष के अनुसार हम आपको 8 अंक वाले जातकों के बारे में बता रहे हैं।

शांत स्वभाव  

जिस प्रकार शनि अपनी बातों को अन्य के सामने प्रकट नहीं करते हैं। उसी प्रकार 8 मूलांक वाले लोग ज्यादा बात नहीं करते हैं। इनका स्वाभाव बिल्कुल शांत होता है। इन्हें अपनी पब्लिसिटी पसंद नहीं आती है। ऐसे जातकों अकेले रहना पसंद होता है। साथ ही शांत रहना इन्हें सबसे अधिक पसंद होता है।

संघर्षों से मिलती सफलता 

स्वामी ग्रह शनि के प्रभाव के कारण इस मूलांक वाले जातकों की प्रगति धीरे-धीरे होती है। इन्हें कोई भी चीज आसानी से नहीं मिलती है। लक्ष्य की प्राप्ति के लिए इन्हें संघर्ष करना पड़ता है।

सामाजिक प्रवृत्ति 

इस मूलांक वाले जातक समाज और देश के हित के लिए काम करते हैं। ऐसे नेक काम के लिए ये अपनी पूरी कोशिश करते हैं। लेकिन शांत प्रिय होने के कारण लोगों तक इनका काम नहीं पहुँच पाता है। जिस कारण ऐसे लोगों को समाज में अधिक अहमियत नहीं मिल पाती है।

इसे भी पढ़ें:  ज्योतिष शास्त्र: 'मंगल' का 'तुला' राशि में गोचर, इन 4 राशियों के लिए है भाग्योदय का समय

मुसीबतों का डटकर सामना 

ऐसे लोग मुसीबतों से डरते नहीं हैं। चट्टान की तरह डटकर कड़े मुसीबतों का सामना करते हैं। हर विपरीत परिस्थितियों का हल निकलने का प्रयास करते हैं। उनके इस निश्चय प्रवृति के कारण ये जीवन बहुत आगे बढ़ते हैं।

शिक्षा में आगे 

आमतौर पर ऐसे जातक पढाई के क्षेत्र में आम लोगों से आगे होते हैं। लेकिन कुछ आर्थिक समस्याओं के कारण इनकी शिक्षा में बाधा आती है। संघर्ष के द्वारा उच्च शिक्षा प्राप्त करते हैं।

धन संग्रही 

इस 8 अंक के मूलांक के जातक के पास अच्छा धन संग्रह होता है। ऐसे लोग फिजूलखर्ची से बचते हैं। ये पाई-पाई का हिसाब रखने वाले होते हैं। धीरे-धीरे ये अच्छी संपत्ति के मालिक हो जाते हैं।

इसे भी पढ़ें: ज्योतिष शास्त्र: इन 4 को खाली हाथ कभी नहीं जाने दें दरवाजे से, वरना कभी नहीं अएगी घर-परिवार में खुशियां

रिश्तों में दरार 

इस मूलांक के जातकों का विवाह 29-30 वर्ष की आयु में होता है। शादी के बाद इनके रिश्ते बार-बार टूटते हैं। इनका गृहस्थ जीवन भी मुश्किल से चलता है। इन्हें केवल अपने संतान से मदद मिलती है।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
shani se prabhavit hote hain 8 mulank vale jatak

-Tags:#Astrology#Ank jyotish#shani se prabhavit 8 mulank#Numerology astrology
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo