Top

'शनि पंचक' 25 November: आज रात से शुरू, भूलकर भी न करें ये काम

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Nov 25 2017 1:31PM IST
'शनि पंचक' 25 November: आज रात से शुरू, भूलकर भी न करें ये काम

Shani Panchak 25 November 2017

ज्योतिष में पंचक को बेहद अशुभ माना गया है। खासतौर पर जब शनि को यह पंचक आता है तो मृत्यु पंचक के नाम से जाना जाता है। पंचक के अंतर्गत पांच नक्षत्र आते हैं। जिसमें घनिष्ठा, शतभिषा, पूर्वा भाद्रपद, उत्तरा भाद्रपद और रेवती प्रमुख है।

ज्योतिषी पंडित धनंजय पाण्डेय के अनुसार इस बार शनि पंचक 25 नवंबर (शनिवार) की रात 10:02 पर शुरू होगा। जो 30 नवंबर (गुरूवार) की दोपहर 12:40 तक रहेगा। ज्योतिषी धनंजय पाण्डेय के अनुसार सभी 5 पंचकों में सबसे अधिक कष्टकारक शनि पंचक ही होता है।

इसे भी पढ़ें  घर-परिवार में कंगाली लाती है 'शनिवार' को इन वस्तुओं को खरीदना

साथ ही पंचक के दौरान कोई भी जोखिम भरा काम नहीं करना चाहिए। इस दिन किए गए जोखिम कार्य मृत्यु के बराबर कष्ट देने वाला होता है। पंचक के प्रभाव से आपसी विवाद, दुर्घटना, चोट आदि का खतरा होता है।

पंचक में क्या न करें

शास्त्रों पंचक के दौरान दक्षिण दिशा में यात्रा करना वर्जित है। दक्षिण दिशा को यमराज की दिशा मानी गई है। इसलिए इस दिशा में यात्रा करने से बचाना चाहिए।

इसे भी पढ़ें: ज्योतिष शास्त्र: सुखी दाम्पत्य जीवन से वंचित रह जाते हैं इन 3 राशियों के जातक

पंचक के समय रेवती नक्षत्र में घर का छत नहीं बनवाना चाहिए। ज्योतिषियों का ऐसा मानना है कि इससे घर में धन हानि और क्लेश बढ़ता है।

पंचक के दौरान कोई भी जोखिम भरा काम नहीं करना करना चाहिए। ऐसा करने से मृत्यु के बराबर कष्ट होती है।

 
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo