Breaking News
Top

सावन के महीने के 5 बेहद खास मंत्र

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Jul 30 2017 4:04PM IST
सावन के महीने के 5 बेहद खास मंत्र

सावन का महीना शिव उपासना हेतु बेहद ही विशेष माना गया है। शास्त्रनुसार श्रावण मास में विधिवत रूप से की गई शिव पूजा से अभीष्ट फलों की प्राप्ति होती है।

सावन का महीना हरियाली के लिए प्रमुख है। सावन का महीना 10 जुलाई से शुरू हुआ था जो 7 जुलाई रक्षाबंधन के दिन समाप्त होगा। इस माह में आप कुछ विशेष मंत्रों का शिव की पूजा में उपासना के समय प्रयोग कर सकते हैं। 
 
सावन के माह में कुछ विशेष मंत्रों से शिव प्रसन्न होते हैं आइए आपको बताते हैं इन मंत्रों के बारे में..
 
एक लोटे में जल लेकर साथ में चंदन रखें, इसके उपरांत निम्न मंत्रों का जाप करें -

अपक्रामन्तु भूतानि पिशाचाः सर्वतो दिशा। 

सर्वेषामवरोधेन ब्रह्मकर्म समारभे।।

अपसर्पन्तु ते भूताः ये भूताः भूमिसंस्थिताः। 

ये भूता विनकर्तारस्ते नष्टन्तु शिवाज्ञया।।

तत्पश्चात शिवलिंग पर जल चढ़ाते हुए इस मंत्र का जाप करें-

गंगा सिन्धुश्य कावेरी यमुना च सरस्वती। रेवा महानदी गोदा अस्मिन्‌ जले सन्निधौ कुरु।।

चंदन की धूप जलाते हुए इस मंत्र का जाप करें-

 
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
sawan month 2017 special 5 mantra

-Tags:#Sawan 2017#Sawan Vrat#Month of Sawan
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo