Breaking News
Top

गणेश चतुर्थी: इस राशि के लोग इस बार ऐसे करें 'गणपति बप्पा' को खुश

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Aug 25 2017 5:07PM IST
गणेश चतुर्थी: इस राशि के लोग इस बार ऐसे करें 'गणपति बप्पा' को खुश

पुराणों में ऐसा वर्णन है कि चतुर्थी तिथि के स्वामी भगवान गणेश हैं। अतः अगर इस तिथि पर गणपति को प्रसन्न करने के लिए राशि के अनुसार कुछ विशेष उपाय किए जाएं तो बहुत ही शुभ फल प्राप्त होता है। साथ ही हमेशा सुख और आनंद प्राप्त होते रहते हैं। तो जानिए राशि के अनुसार भगवान गणेश को प्रसन्न करने के क्या उपाय हैं। 

1.मेष राशि- मेष राशि वाले लोग इस दिन सिंदूर रंग के गणेशजी की आराधना करें। 11 दूर्वा दल को हल्दी के जल में डालकर चढ़ाएं 'ऊं गं गणपतये नम:' इस मंत्र को दूर्वा से 108 बार भोजपत्र पर लिखे। ऐसी गणेश उपासना से समस्त विघ्न संकट का निवारण होता है और धन-धान्य की प्राप्ति होती है।

2.वृषभ राशि- वृषभ राशि वाले लोग इस दिन सफेद रंग के श्रीगणेशजी की आराधना करें। श्रीगणेश को सफेद फूल पर सुगंधित लेप लगाकर नौ दूर्वा के साथ सफेद लड्डू का भोग लगाएं। पूजा करते समय 'ऊँ गणेशाय नमः' इस मंत्र का जाप करें। इस प्रकार श्रीगणेश का पूजन करने से वृषभ राशि वाले लोगों को सभी कार्य में सफलता व सिद्धि प्राप्त होती है।

इसे भी पढ़ें: गणेश चतुर्थी आज, जानें पूजा का सही मुहूर्त और विधि

3.मिथुन राशि- मिथुन राशि वाले लोगों के लिए हरे रंग की गणेश प्रतिमा का पूजन करना शुभ होता है। श्रीगणेश की कृपा प्राप्त करने के लिए दूर्वा की माला बनाकर 'ऊं श्री गं गणाधिपतये नम:' इस मंत्र का 108 बार उच्चारण करके चढ़ाना चाहिए। बाद में श्रीगणेश को गुड़ का भोग भी लगाना चाहिए।

4.कर्क राशि- कर्क राशि वाले लोगों के लिए सफेद रंग के गणेशजी की पूजा करना श्रेयस्कर होता है। श्रीगणेश को प्रसन्न करने के लिए सफेद पुष्प की माला बनाकर साथ में दूर्वा की जड़ बांधकर अर्पित करें। 'ऊं श्री श्वेतार्क देवाय नम:' का जाप कम से कम 108 बार करें। लड्डू के भोग पर थोड़ा सा मक्खन चढ़ाएं। इस विधि से भगवान गणेश की पूजा करने से सारी मनोकामनाएं पूरी होती है।

5.सिंह राशि- सिंह राशि वाले लोगों के लिए गहरे लाल रंग की श्रीगणेश प्रतिमा की आराधना करना ज्यादा फलदायक माना गया है। सिंह राशि के लोग श्रीगणेश की विधि-विधान से पूजन करें। श्रीगणेश पर 108 दूर्वा कुंकुम में कर के चढ़ाएं। गुड़ की 11 गोली बनाकर श्री गणेशजी को नित्य अर्पण करें। ऐसा करने से चहुंमुखी विकास होता है।

इसे भी पढ़ें: गणेश चतुर्थी कथा

6.कन्या राशि- कन्या राशि वाले लोगों को इस दिन गहरे हरे रंग के श्री गणेशजी की आराधना करना श्रेष्ठ माना गया है। हरे मूंग को 108 संख्या में श्री गणेशजी की प्रतिमा पर चढ़ाएं। भगवान गणेश के मंदिर में हरे मूंग व गुड़ का दान करें। 'श्री वक्रतुंडाय नम:' मंत्र का 108 बार जाप करें। इस तरह श्रीगणेश का पूजन करने से आपको सभी कार्यों में सफलता प्राप्त होगी।

7.तुला राशि- तुला राशि वाले लोगों को इस दिन सफेद मिश्रित रंग के श्री गणेशजी की आराधना करना सर्वोत्तम माना गया है। सवाया लड्डू का भोग श्रीगणेश को लगाएं। दूर्वा व पुष्प भी सवा सौ ग्राम या सवा किलो चढाएं जिससे समस्त संकट का निवारण होकर इच्छित मनोकामना परिपूर्ण होती है। श्रीगणेश स्त्रोत का पाठ करना भी श्रेष्ठ होता है।

8.वृश्चिक राशि- वृश्चिक राशि वाले जातकों को लाल मिश्रित श्रीगणेशजी की आराधना करना सबसे अच्छा होता है। श्रीगणेशजी पर लाल रंग से रंगे चावल अर्पण करें। इस बात का विशेष ध्यान रखें कि चावलों की संख्या 108 होनी चाहिए। 'श्री विघ्नहरण संकट हरणाय नम:' का जाप करें, जिससे समस्त मनोकामना परिपूर्ण होगी।

9.धनु- राशि वाले लोगों को इस दिन पीले रंग के गणेशजी की आराधना करनी चाहिए। हल्दी की पांच गांठ  'श्री गणाधिपतये नम:' का उच्चारण कर चढ़ाएं। 108 दूर्वा पर गीली हल्दी लगाकर 'श्री गजाननाय नम:' का जाप करके चढ़ाएं। इस प्रकार पूजन करने पर भगवान श्रीगणेश सभी मनोवांछित कामनाएं पूरी करते हैं।

इसे भी पढ़ें: गणेश चतुर्थी पूजा और महत्व

10.मकर राशि- मकर राशि वाले लोगों को नीले रंग के श्रीगणेशजी की आराधना करना सर्वोत्तम होता है। भगवान श्रीगणेश को काले तिल अर्पण करें। दूर्वा व लाल रंग के फूल पर इत्र लगाकर 'श्री गणेशाय नम:' का जप करके श्री गणेशजी को अर्पण करें। जिससे समस्त विघ्न का निवारण हो सके। 

11.कुम्भ राशि- कुंभ राशि वाले लोगों को इस दिन आसमानी रंग की गणेश प्रतिमा की आराधना करनी चाहिए। श्रीगणेश को सिंदूर का तिलक लगाएं व उनके मस्तक के मध्य में हल्दी का तिलक लगाएं। हाथी को मोदक या गुड़ रोटी खिलाएं व 108 दूर्वा चढ़ाएं और 'ऊँ गं गणपतये नम:' का जाप करें।

12.मीन राशि- मीन राशि वाले लोगों को हल्दी रंग के श्री गणेशजी की आराधना करनी चाहिए। हल्दी की जड़ पर आठ बार 'ऊं गं गं गं गं गं श्री गजाय नम:' लिखकर भगवान श्री गणेशजी के मस्तक पर अर्पण करें। पीले रंग के धागे में पीले पुष्प व दूर्वा की माला बनाकर श्री गणेशजी को अर्पण करें।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
satisfy ganapati according to the amount of special measures

-Tags:#Ganesh Chaturthi 2017#Ganapati Bappa Morya#Siddhivinayak Temple
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo