Hari Bhoomi Logo
गुरुवार, सितम्बर 21, 2017  
Breaking News
Top

7 अगस्त को सूर्यास्त के बाद न करें ये काम, पूर्णिमा और ग्रहण का है योग

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Aug 6 2017 12:26PM IST
7 अगस्त को सूर्यास्त के बाद न करें ये काम, पूर्णिमा और ग्रहण का है योग

सावन के आखिरी सोमवार और रक्षाबंधन के पावन पर्व के दिन तकरीबन 12 साल के अंतराल के बाद 7 अगस्त के दिन पूर्णिमा और चंद्र ग्रहण का योग बन रहा है।

जिसके कारण सारा दिन सूतक का प्रभाव रहेगा। ज्योतिष की मानें तो, चंद्रग्रहण तब लगता है, जब ग्रहण के वक्त धरती की परछाई का हल्का भाग चांद से होकर गुजरता है।

ये भी पढ़ें- लड़कियां हो या लड़के, सूरज ढलने के बाद किया ये काम तो खुद ही होंगे जिम्मेदार

इस समय चंद्रमा पर पड़ने वाली सूर्य की रोशनी आंशिक तौर पर कटी-कटी सी प्रतीत होती है और को चंद्रमा की छवि धुंधली दिखाई पड़ती है। इसलिए इस दौरान किसी के भी स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ सकता है।

आइए जानते हैं इस दौरान ध्यान रखने योग्य कुछ बातें -

  1. शास्त्रों के अनुसार, केवल बीमार, बुजुर्ग और गर्भवती महिलाएं ही इस दिन संध्या के समय सो सकती हैं बाकी अन्य किसी को सूर्यास्त के बाद नहीं सोना चाहिए। 
  2. एक अन्य मान्यता ये भी है कि संध्या के समय सभी देवी देवता पृथ्वी पर भ्रमण करते हैं। इसलिए इस समय जो लोग सोए रहते हैं उन्हें देवताओं का आशीर्वाद नहीं मिल पाता।
  3. ग्रहण के अलावा जिन घरों में लोग ईश्वर की उपासना कर रहे होते हैं उन्हें देवताओं का आर्शीवाद प्राप्त होता है।

ये भी पढ़ें- सूर्यास्त के बाद करें ये काम, मिलेगी तरक्की ही तरक्की

  1. इस दौरान मंदिरों के कपाट बंद रहते हैं। केवल मंत्रों का जाप ही किया जा सकता है।
  2. इस दौरान सभी शुभ कार्य भी वर्जित रहते हैं। 
  3. एक और ध्यान देने वाली बात ये है कि ग्रहण काल के दौरान कभी भी शरीर के किसी भी अंग पर तेल नहीं लगाना चाहिए। 
  4. ग्रहण काल के दौरान पति-पत्नी को ब्रह्मचर्य व्रत का पालन करना चाहिए। 
  5. ग्रहण खत्म होने तक कुछ खाना-पीना नहीं चाहिए।
  6. बाद में कुछ भी खाते हैं तो उन सब खाद्य-पदार्थों पर गंगाजल का छिड़काव अवश्य करें व कुछ तुलसी के पत्ते रखें। 
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
rakshabandhan special story about grahan

-Tags:#Rakshabandhan#Raksha Bandhan#Grahan 2017
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo