Hari Bhoomi Logo
गुरुवार, सितम्बर 21, 2017  
Breaking News
Top

कभी मत सोना दिन के इस समय, झेलना पड़ सकता है देवताओँ का प्रकोप

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Jul 27 2017 4:17PM IST
कभी मत सोना दिन के इस समय, झेलना पड़ सकता है देवताओँ का प्रकोप

अक्सर लोग दिन के समय में कुछ काम न होने के कारण खाली समय पाकर सो जाते हैं। कुछ ऐसे होते हैं जो दोपहर के बाद वाले पहर में सोते हैं।

लेकिन ध्यान रहे कि ऐसे ही दिनभर के किसी भी समय में सोना आपके लिए एक खतरा साबित हो सकता है, ऐसा करके आप अपने पर देवताओं को ख्रोधित करने के लिए विवश कर रहे हैं। शास्त्रों में कहा गया है, ‘दिवास्वापं च वर्जयेत्’ अर्थात दिन में सोना उचित नहीं है।

ये भी पढ़ें- शाम के समय पढ़ें शिव के 5 शक्तिशाली मंत्र, होता है चमत्कार

शास्त्रों के अनुसार, दिन का समय सोने के लिए वर्जित है। माना जाता है कि दिन के समय सोने से देवी-देवताओं का आशीर्वाद नहीं मिलता। इसके अलावा जो लोग संध्या के पहर के समय पैर फैलाकर सोते हैं उनके घर लक्ष्मी कभी वास नहीं लेतीं। और इसके साथ ही उनके घर में धन की समस्या शुरू हो जाती है।
 
शास्त्रों के अनुसार, यह भी बताया गया है कि दिन के समय में केवल गर्भवती स्त्री, बच्चे, बुजुर्ग और अस्वस्थ व्यक्ति ही सो सकते हैं। एक शारीरिक रूप से स्वस्थ व्यक्ति के लिए गलत समय पर ली गई नींद अपशकुन के साथ उसके स्वास्थ्य के लिए भी खतरा बन सकती है। 
 
ऐसी मान्यता है कि सूर्यास्त के समय आरती व पूजा का समय होता है। इस पहर में सभी देवी-देवता पृथ्वी पर भ्रमण करते हैं। इसलिए इस समय जो लोग सोए रहते हैं उन्हें देवताओं का आशीर्वाद नहीं मिल पाता।
 

वैज्ञानिक कारण

माना जाता है कि दोपहर के समय सोने से पेट दर्द, गैस व अपच की कई समस्याएं हो सकती हैं। इसके बाद यदि रात्रि के समय आप सोने जा रहे हैं तो आपको देरी से नींद आएगी क्योंकि आपकी नींद दोपहर के समय में ही पूरी हो चुकी होती हैय़।
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
prohibited sleep this time of day in hindu shastra

-Tags:#Hindu Shastra#Sleeping Time#Auspicious Thing#Religion News
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo