Breaking News
Top

हस्तरेखा शास्त्र: मंगल पर्वत हो ऐसा तो व्यक्ति होता है डिप्रेशन का शिकार, हो सकती ये भयानक दुर्घटना

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Mar 10 2018 12:08PM IST
हस्तरेखा शास्त्र: मंगल पर्वत हो ऐसा तो व्यक्ति होता है डिप्रेशन का शिकार, हो सकती ये भयानक दुर्घटना

हस्तरेखा शास्त्र में हथेली का मंगल पर्वत का विशेष महत्व माना गया है। हथेली का मंगल पर्वत जितना विकसित और पुष्ट होता है व्यक्ति की मानसिक स्थिति उतनी ही मजबूत होती है। वहीं यदि मंगल पर्वत पर्ण रूप से विकसित नहीं होती है तो व्यक्ति डिप्रेशन का शिकार हो जाता है।

हस्तरेखा शास्त्र में हथेली की मंगल पर्वत का विशेष महत्व माना गया है। हथेली का मंगल पर्वत जितना विकसित और पुष्ट होता है व्यक्ति की मानसिक स्थिति उतनी ही मजबूत होती है। 

मंगल पर्वत

वहीं यदि मंगल पर्वत पर्ण रूप से विकसित नहीं होती है तो व्यक्ति डिप्रेशन का शिकार हो जाता है। हथेली का मंगल पर्वत का उभार यदि बुध पर्वत की ओर हो तो व्यक्ति अति उग्र स्वभाव का माना जाता है।

इसे भी पढ़ें: ज्योतिष शास्त्र: 'गुरु' इस 1 राशि में हुए वक्री, इन 9 राशियों की बदलेगी किस्मत, क्या आपकी राशि है इसमें

व्यक्ति हमेशा खुद को एक बड़ा योद्धा समझता है। इतना ही नहीं हथेली का मंगल पर्वत और बुध पर्वत की ऐसी स्थिति में व्यक्ति लड़ाई-झगड़ा में आगे रहने वाला माना जाता है। 

मंगल पर्वत और जीवन रेखा 

यदि मंगल पर्वत से कोई रेखा निकलकर जीवन रेखा से जाकर मिल जाए या जीवनरेखा को काटते हुए नजर आए। तो यह दुर्घटना का संकेतक माना जाता है। मंगल पर्वत से निकलती हुई यह रेखा जीवन रेखा को जहां काट रही होती है, व्यक्ति का उस उम्र में या तो दुर्घटना होगी जिस कारण वह अपने शरीर का कोई अंग गंवा सकता है।

इसे भी पढ़ें: शनिदेव पूजा विधि: ये हैं शनिदेव को प्रसन्न करने के अचूक उपाय

इसके अलावा मंगल पर्वत पर कोई क्रास का निशान अथवा द्वीप होना भी अशुभ माना जाता है। मंगल पर्वत पर क्रॉस या द्वीप के निशान होने से व्यक्ति को सिरदर्द, थकान, गुस्सा जैसी समस्याएं पौदा करता है।

इसे भी पढ़ें: हस्तरेखा शास्त्र: ऐसी हथेली वाला व्यक्ति, नहीं भागते हैं पैसों के पीछे, मिलती है हर सुख-सुविधा

यदि मगंल के उस पर्वत से कोई रेखा चंद्र पर्वत तक जाए तो ऐसा जातक निर्णय लेने में विलंब और लगातार अनियमित कार्य करने का अभ्यस्त हो जाता है। मंगल पर्वत यदित यदि चंद्र पर्वत से नीचा (दबा हुआ) दिखता हो तो व्यक्ति को सफलता ना मिलने के कारण चिड़चिड़ापन भी होता है।

इस पर्वत पर कोई अशुभ चिह्न व्यक्ति को आर्थिक मुसीबतों में डालती है। साथ ही पारिवारिक समस्याओं का सामना करना पड़ता है और उसकी वाणी प्रभावित होती है।

ADS

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
palmistry hatheli ka mangal parvat

-Tags:#Palmistry#HatheliKaMangalParvat#BrainLine#Lifeline#FateLine

ADS

ADS

मुख्य खबरें

ADS

ADS

ADS

ADS

Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo