Top

दुर्गा पूजा 2017: क्यों हुई थी माता दुर्गा की उत्पत्ति, कैसे हुआ था अवतार

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Sep 19 2017 5:57PM IST
दुर्गा पूजा 2017: क्यों हुई थी माता दुर्गा की उत्पत्ति, कैसे हुआ था अवतार

माता दुर्गा की उत्पत्ति की बहुत सारी कहानियां हैं। लेकिन महिषासुर नमक असुर के विनाश के लिए जब माता दुर्गा की उत्पत्ति हुई वह सभी जगह मान्य है। कथा ऐसी है कि एक महिषासुर नाम का दानव था जो देखने में महिष यानि भैंसा के जैसा था।

इसे भी पढ़ें: नवरात्रि 2017: माता दुर्गा आएंगी 'डोली' पर, हो जाएं सतर्क

महिषासुर बहुत शक्तिशाली था। वह सृष्टि के सभी देवी-देवताओं का वध करना चाहता था। ताकि वह संसार पर विजय प्राप्त कर सके। इससे घबराकर सभी देवता, सृष्टि के रचयिता ब्रह्मा जी के पास गए और अपनी बात कही।

इसे भी पढ़ें:इस आसान टोटके से दूर होगी हर बाधा

तभी ब्रह्मा जी ने सभी देवी-देवताओं की शक्ति और अस्त्र-शस्त्र को मिलकर देवी दुर्गा का सृजन किया। देवी दुर्गा का सृजन सभी की शक्तियों को मिलाने से ही संभव था ताकि महिषासुर का वध किया जा सकें। माता दुर्गा की इस उत्पत्ति से ही दैत्य महिसासुर का वध किया गया।  

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo