Top

ज्योतिष शास्त्र: ''मंगल'' का ''तुला'' राशि में गोचर, इन 4 राशियों के लिए है भाग्योदय का समय

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Nov 29 2017 11:57AM IST
ज्योतिष शास्त्र: ''मंगल'' का ''तुला'' राशि में गोचर, इन 4 राशियों के लिए है भाग्योदय का समय

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार मंगल ग्रह को शक्तिशाली और उग्र ग्रह माना गया है। इसलिए मंगल से प्रभावित जातकों में क्रोध अधिक रहता है। इसके अलावे मंगल ग्रह शक्ति, उर्जा और पराक्रम का भी करक होता है।

मंगल के कमजोर होने से व्यक्ति में क्षमता और आत्मा विश्वास की कमी लता है। इसके अलावे यह रक्त से संबंधित बीमारियों का भी कारक होता है। ज्योतिषी पंडित धनंजय पाण्डेय के अनुसार मंगल ग्रह 30 नवंबर (गुरूवार) को सुबह 5 बजकर 44 मिनट पर तुला राशि में गोचर करेगा।

मंगल का यह गोचर 17 जनवरी (बुधवार) 2018 तक रहेगा। मंगल ग्रह मेष और वृश्चिक राशि का स्वामी ग्रह है। साथ ही कर्क और सिंह राशि के लिए कारक ग्रह है। इस स्थिति में इन 4 राशियों के साथ-साथ अन्य राशियों के लिए भी परिवर्तन के योग बन रहे हैं। इसके अलावे मेष राशि से लेकर मीन राशि के जातकों का हाल कुछ ऐसा रहेगा।

मेष राशि 

मंगल आपकी राशि में सातवें भाव में प्रवेश करेगा। इस दौरान जीवनसाथी से नोकझोंक हो सकते हैं। कुंडली में मंगल कमजोर होने की स्थिति में यह गोचर थोड़ी परेशानी लाएगा। पेट से संबंधित रोग हो सकते हैं। जीवनसाथी अपनी अक्रामकता के कारण आप पर हावी रहेंगी। इस दौरान मानसिक बढ़ने की संभावना है। व्यावसायिक जीवन में उन्नति होगी।

इसे भी पढ़ें: दिसंबर माह राशिफल: साल के अंत में इन राशियों की बदलेगी किस्मत

वृष राशि 

मंगल ग्रह आपकी राशि में छठे भाव में गोचर करेगा। जिस कारण आप शत्रुओं पर विजय प्राप्त करेंगे। इस दौरान सेहत को लेकर सावधानियां बरतनी होगी। लम्बे समय से चली आ रही परेशानियों से निजात मिल सकता है। किसी कानूनी मामले में सफलता मिलेगी। खर्च बढ़ने लगेंगे और बिना किसी सोच-विचार के अधिक खर्च करेंगे। कार्यस्थल पर कामयाबी हासिल करने के लिए किए गए मेहनत रंग लाएगी।

मिथुन राशि 

मंगल आपकी राशि में पांचवें भाव में प्रवेश करेगा। इस अवधि में आपके जीवन शत्रुओं की संख्या बढ़ेगी। बच्चों की स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां बढ़ेगी। इस कारण मन अशांत रहेगा। शेयर से संबंधित कार्यों में लाभ मिलेगा। इस दौरान खर्च बढ़ सकती है इसलिए पैसों के लेनदेन में सावधानियां रखें।

कर्क राशि 

इस गोचर के साथ मंगल आपकी राशि से चौथे भाव में प्रवेश करेगा। इस दौरान विचारों की सहमति न हो पाने के कारण मां के साथ बहस हो सकती है। बहस व झगड़ों के बढ़ जाने के कारण शादीशुदा जीवन में शांति भंग होने की संभावना है। मां की सेहत इस बीच बिगड़ सकती है और परिवार से अलगाव की भी संभावना है। जीवनसाथी को कार्य क्षेत्र में प्रमोशन आदि से खुशियां बढ़ेगी।

सिंह राशि 

इस गोचर के दौरान आप खुद को बेहद स्वस्थ और चंगा महसूस करेंगे। भौतिक साधनों की सुविधा बढ़ेगी। आय में बढ़ोतरी होगी और कपड़े आदि पर खुलकर खर्च करेंगे। भाई-बहनों की ओर से चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। इस अवधि में होने वाली यात्राएं आपके लिए लाभदायी साबित होगी। सहकर्मियों के साथ बहस हो सकती है। लेकिन इसका करियर पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा।

इसे भी पढ़ें: स्वप्न शास्त्र: सपने में बनाते हैं शारीरिक संबंध ? ये होता है इसका मतलब

कन्या राशि 

मंगल आपकी राशि में दूसरे भाव में गोचर करेगा। इस दौरान आपकी वाणी में कठोरता आएगी। वरिष्ठ और अधिकारियों से बहस आपको परेशानी में डाल सकती है। इस दौरान आपको अपनी वाणी में संयम रखना चाहिए। अप्रत्याशित लाभ से खुशी होगी। कुछ अनौतिक व्यवहारों से समाज में आपका नाम खराब हो सकता है। माता-पिता और जीवनसाथी का स्वास्थ्य बिगड़ सकता है। करियर में कुछ रुकावटें आएंगी जिसे डटकर सामना करना होगा।

तुला राशि 

मंगल का गोचर आपकी ही राशि में हो रहा है। यह आपकी राशि के प्रथम भाव में रहेगा। इस दौरान आपको गुस्सा अधिक बढ़ेगा। सेहत से संबंधित परेशनियां आएंगी। साथ ही इस दौरान दूसरों पर हावी होने की कोशिश न करें अन्यथा नुकसान होगा। निजी जीवन में झगड़े होने से मानसिक तनाव की स्थिति रहेगी। अगर मां का ख्याल नहीं रखा तो उनकी सेहत गिर भी सकती है। अपने लक्ष्यों को हासिल करने के लिए आपको कड़ी मेहनत करने की ज़रूरत है। किसी भी खतरे या दुर्घटना से बचने के लिए संभल कर गाड़ी चलाएं। 

वृश्चिक राशि   

इस गोचर से आपको शादीशुदा जीवन में परेशानियां आएंगी। जीवनसाथी को आपके व्यवहार से लगातार परेशानियां रहेगी। इस दौरान खर्च अधिक बढ़ेंगे। विदेश की यात्रा के भी प्लान बना सकते हैं। आपके कार्यों में बाधक रुकावटों से आप बिल्कुल भी हिम्मत न हारें क्योंकि अपनी मेहनत से ही आप उन बाधाओं को दूर कर सकेंगे। इस बीच आप पीलिया, अल्सर जैसी परेशानियों से भी ग्रस्त हो सकते हैं। मन बेचैन रहने के कारण अनिद्रा की शिकायत भी हो सकती है। इस गोचर के दौरान आपको ज़्यादा सावधान रहने की जरुर है वरना चोट आदि भी लग सकती है। 

धनु राशि 

मगल आपकी राशि में ग्यारहवें भाव में आएगा। इस दौरान आपको कई प्रकार के फायदे होंगे। मंगल आपकी राशि से ग्यारहवें भाव में गोचर करेगा जिससे आपको कई फायदे होंगे। कोर्ट-कचहरी के मामलों में सफलता मिलेगी और विरोधियों पर आप जीत हासिल करेंगे। दोस्तों के साथ आपको काफी अच्छा महसूस होगा। सामाजिक स्थिति में बढ़ोत्तरी होगी, कार्यों में सफलता मिलेगी, बिजनेस में सुधार होगा और आपको खुशियां प्राप्त होंगी।

इसे भी पढ़ें: 'तुलसी' के 11 पत्तों ऐसे करें ये शास्त्रीय उपाय, 'धन' से जुड़ी सभी समस्याएं होंगी दूर

मकर राशि 

आपकी राशि में मंगल का गोचर आपकी राशि में दसवें भाव में करेगा। इस दौरान आप करियर के क्षेत्र में नई उंचाइयों को छुएंगे। नौकरी में प्रमोशन और सैलरी में बढ़ोतरी होगी। किसी बड़े कार्य को करने के अवसर मिल सकते हैं। इस दौरान ववादों से आपको बचना होगा। इस के अलावे इस बीच आप जमीन या अन्य प्रोपर्टी का सौदा भी कर सकते हैं।

कुंभ राशि 

मंगल आपकी राशि में नौवें भाव में गोचर करेगा। इस दौरान आपको मिलाजुजा लाभ मिलने वाला है। इस बीच आपको जॉब बदलनें के भी संभावना बन रही है। आय के अच्छे अवसर मिलेंगे। पिता के सेहत का ख्याल रखना रखना चाहिए। बिजनेस में कुछ खास परिणाम साबित नहीं होंगे। वाद-विवाद से बचने की कोशिश करनी चाहिए। इस दौरान लम्बी यात्रा पर भी जा सकते हैं।

मीन राशि 

मंगल आपकी राशि में आठवें भाव में गोचर करेगा। इस दौरान आप काफी असंतुष्ट रहेंगे। कार्यों में लाभ प्राप्त करने के लिए मेहनत करनी होगी। खुद को खून से संबंधित, चोट और दुर्घटनाओं से बचाना होगा। कार्यों में रुकावटें आएंगी। अनावश्यक यात्राएं आपके खर्च को बढ़ाएगा। जिस कारण मानसिक परेशानी हो सकती है। ससुराल पक्षों के साथ विवादों से बचें। इस गोचर के दौरान अचानक लाभ से आपको अपार खुशी होगी।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo