Breaking News
Top

ऐसे करें माता लक्ष्मी की पूजा, पूरी होगी सभी मनोकामनाएं

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Oct 10 2017 8:00AM IST
ऐसे करें माता लक्ष्मी की पूजा, पूरी होगी सभी मनोकामनाएं

लक्ष्मी पूजा कार्तिक मास की अमावस्या को मनाई जाती है। जिसमें धन के देवी लक्ष्मी जी के साथ-साथ गणेश जी की भी पूजा का भी विधान है। वैसे तो किसी भी पूजा में सबसे पहले गणेश भगवान की पूजा कि बिना पूजा अधूरा माना जाता है। लेकिन लक्ष्मी पूजा के दिन भगवान गणेश की पूजा सोने में सुहागा माना जाता है। मान्यता है कि धन-वैभव पाने के लिए लक्ष्मी पूजा ही सर्वोत्तम है। उसमे भी कार्तिक मास की अमावस्या के दिन लक्ष्मी पूजा का अलौकिक विधान है।

इसे भी पढ़ें:दिवाली 2017: शुभ मुहूर्त और विधि

ऐसे करें लक्ष्मी पूजा 

लक्ष्मी पूजा के दिन शाम के समय लक्ष्मी और गणेश जी की नई प्रतिमा को किसी साफ चौकी पर विराजित करें। इसके बाद मूर्तियों के सामने एक जल से भरा हुआ कलश रखें। इसके बाद मूर्तियों के सामने बैठकर हाथ में जल लेकर शुद्धि मंत्र ऊँ अपवित्रः पवित्रो वा सर्वावस्थांगतोऽपिवायः स्मरेत्पुण्डरीकाक्षं सः बाह्याभ्यन्तरः शुचिः।। का उच्चारण करते हुए उसे मूर्ति पर, परिवार के सदस्यों पर और घर में छिड़कना चाहिए।

ऋग्वेद के अनुसार इस मंत्र से माता लक्ष्मी का ध्यान करना चाहिए

धनमग्निर्धनं वायुर्धनं सूर्यो धनं वसुः।

धनमिन्द्रो बृहस्पतिर्वरुणं धनमस्तु ते।।

अश्वदायै गोदायै धनदायै महाधने।

धनं मे जुषतां देवि सर्वकामांश्च देहि मे।।

मनसः काममाकूतिं वाचः सत्यमशीमहि।

पशूनां रूपमन्नस्य मयि श्रीः श्रयतां यशः ।।

इसे भी पढ़ें: धनतेरस अपनाएं ये टोटके, रातों-रात बदल जाएगी किस्मत

माता लक्ष्मी की पूजा के बाद दीपक का पूजन करें। इसके बाद तिल के तेल से सात या ग्यारह दिए जलाने चाहिए। दीपक पूजन के बाद घर की महिलाएं अपने हाथ से सोने-चांदी के आभूषण इत्यादि को मां लक्ष्मी को अर्पित करें। अगले दिन स्नान कर विधि-विधान से पूजा के बाद आभूषण एवं सुहाग की अन्य सामग्री जो अर्पित की थी उसे मां लक्ष्मी का प्रसाद समझकर स्वयं प्रयोग करें। मान्यता है कि ऐसा करने से मां लक्ष्मी की कृपा सदा बनी रहती है।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
lakshmi puja 2017

-Tags:#Lakshmi Puja 2017#Lakshmi Puja
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo