Hari Bhoomi Logo
शनिवार, सितम्बर 23, 2017  
Breaking News
Top

14 या 15 अगस्त, जानिए- कब मनाई जाएगी जन्माष्टमी

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Aug 14 2017 10:42PM IST
14 या 15 अगस्त, जानिए- कब मनाई जाएगी जन्माष्टमी

श्रावण मास की शुल्क पक्ष की अष्टमी को भगवान विष्णु ने द्वापर युग में मथुरा वासियों को कंस के पापों से मुक्ति दिलाने के लिए कृष्ण रूप में अवतार लिया था। इसी अवतार में श्रीकृष्ण ने अर्जुन को महाभारत के युद्धक्षेत्र में गीता का उपदेश भी दिया था। विष्णु के इसी अवतार ने सुदामा की गरीबी भी मिटाई थी।

ये भी पढ़ें- कृष्ण ने बताया था अर्जुन को दुश्मनों पर विजय पाने रहस्य

जन्माष्टमी के अवसर पर मथुरा में श्रद्धालुओं का जमावड़ा लगता है। पूरी मथुरा नगरी कृष्ण के जन्म की तैयारियों में डूबी रहती है। 
 
लेकिन हर वर्ष मनाया जाने वाला जन्माष्टमी का यह पर्व इस बार (वर्ष 2017 में) दो दिन का माना जा रहा है। कुछ श्रद्धालुओं का मत है कि इस बार जन्माष्टमी 14 अगस्त को है तो कुछ का मानना है कि इस बार 15 अगस्त के दिन भगवान कृष्ण के जन्म का उत्सव जन्माष्टमी मनाया जाएगा। 
 
लेकिन पौराणिक ग्रंथों के मुताबिक, भगवान कृष्ण का जन्म भाद्रपद मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी को रोहिणी नक्षत्र में मध्यरात्रि को हुआ था। 
 
ज्योतिष की मानें तो, स्मार्त (पुराणों और स्मृतियों के आधार पर जीवन-यापन करने वाले लोगों का संप्रदाय जिसे स्मार्त संप्रदाय कहते हैं।) लोग अर्धरात्रि का स्पर्श होने पर या रोहिणी नक्षत्र का योग होने पर सप्तमी सहित अष्टमी में भी उपवास करते है।
 
इसके अलावा वैष्णव लोग सप्तमी का लेशमात्र भी स्पर्श होने पर दूसरे दिन ही उपवास करते है। 
 
 
लेकिन वर्ष 2017 में इसका शुभ दिन 14 अगस्त को ही होगा।
निशिथ पूजा- 3 बजे से 3 बजकर 47 मिनट तक की जाएगी। 5 बजकर 39 मिनट पर रोहिणी समाप्त
 
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
know the janmashtami celebration festival 2017

-Tags:#Janmashtami 2017#Krishna Janmashtami#Lord Krishna
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo