Hari Bhoomi Logo
मंगलवार, सितम्बर 19, 2017  
Top

चार धामों में से एक है ये तीर्थ स्थल, धुलते हैं जन्मों के पाप

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Aug 12 2017 11:29AM IST
चार धामों में से एक है ये तीर्थ स्थल, धुलते हैं जन्मों के पाप

रामेश्‍वरम के सबसे प्रमुख आकर्षणों में एक रामसेतु भी है। यह तमिलनाडु के रामानाथुन जिले में स्थित है।

ये भी पढ़ें- भारत के अलावा इन देशों में भी हैं 'बाबा बर्फानी'

हालांकि यहां तक पर्यटकों के जाने पर स्थानीय प्रशासन की तरफ से रोक है लेकिन धनुषकोडि पहुंचकर आप इसका नजारा देख सकते हैं। दूर से नजर आता है वह रामसेतु, जो रामायण की कहानी का साक्षात प्रमाण हैं।

धनुषकोडि और श्रीलंका के बीचोबीच बना यह पुल खुद में एक बड़ा राज है, जिसकी सच्चाई जानने के लिए अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष एजेंसी नासा भी जुटी हुई हैं और यह साबित भी कर चुकी है कि इसे इंसानों ने ही बनाया था! यह अलग शोध का विषय है, पर पानी के भीतर डूबे इस पुल पर इक्के-दुक्के लोगों को धनुषकोडि से चलते देखना सुखद है।

गंधमदाना पर्वतम

इस पर्वत से पूरा द्वीप दिखता है। इसी पर्वत के नाम पर पहले रामेश्‍वरम को 'गंधमाधनम' कहा जाता था। यह द्वीप का सबसे ऊंचा क्षेत्र है। यह शहर से करीब 3 किलोमीटर की दूरी पर है।
 
यहां से शहर का पूरा विहंगम नजारा दिखता है। इसका एक और आकर्षण भगवान राम के पदचिह्न हैं, जिसका दर्शन करने बड़ी संख्या में श्रद्धालु पर्यटक आते हैं।
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
know the interesting facts about rameshwaram in hindi

-Tags:#Rameshwaram#Lord Ram#Shree Ram#Religious Place
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo