Breaking News
Top

जानिए इस नवरात्र भगवती दुर्गा के नौ रुपों की पूजा कब-कब होगी

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Sep 11 2017 11:03AM IST
जानिए  इस नवरात्र भगवती दुर्गा के नौ रुपों की पूजा कब-कब होगी

शारदीय नवरात्र इस साल 21 सितंबर से शुरू हो रहा है। माता दुर्गा नवरात्र में नौ दिनों तक अपने भक्तों पर अपनी कृपा बरसाती हैं। नवरात्र के नौ दिनों में माता दुर्गा के नौ रूपों की पूजा की जाती है।

शुभ मुहूर्त-

21 सितंबर को माता दुर्गा के प्रथम रूप शैलपुत्री की पूजा होगी। 21 सितंबर को सुबह 6:03 बजे से 8:22 बजे तक का समय अमृत योग है अगर आप घर में कलश स्थापना चाहते हैं तो अमृत योग का समय सबसे अच्छा है। 

इसे भी पढ़ें: दुर्गा पूजा 2017: जानें दुर्गा पूजा से पहले महालया का महत्व

कलश स्थापना-

कलश स्थापना के लिए सबसे पहले जौ को फर्श पर डालें उसके बाद उस जौ पर कलश को स्थापित करें फिर उस कलश पर स्वास्तिक बनाएं उसके बाद कलश पर मौली बांधें और उसमें जल भरें। कलश में अक्षत, साबुत सुपारी, फूल, पंचरत्न और सिक्का डालें।

अखंड दीप- 

दुर्गा सप्तशती के अनुसार नवरात्र की अवधि में अखंड दीप जलाने का विशेष महत्व है। मान्यता है कि जिस घर में अखंड दीप जलता है वहां माता दुर्गा की विशेष कृपा होती है।

इसे भी पढ़ें: जानें कब और क्यों मनाते हैं विश्वकर्मा पूजा

लेकिन अखंड दीप जलाने के कुछ नियम हैं, इसमें अखंड दीप जलाने वाले व्यक्ति को जमीन पर ही बिस्तर लगाकर सोना पड़ता है। किसी भी हाल में जोत बुझना नहीं चाहिए और इस दौरान घर में भी साफ सफाई का खास ध्यान रखा जाना चाहिए।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo