Breaking News
Top

गरुड़ पुराण: ऐसे संबंध बनाने पर व्यक्ति हो जाता है 'नपुंसक'

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Oct 14 2017 2:14PM IST
गरुड़ पुराण: ऐसे संबंध बनाने पर व्यक्ति हो जाता है 'नपुंसक'

हिन्दू धर्म में एक से बढ़कर एक धर्म ग्रंथ हैं। ऐसा ही एक धर्म ग्रंथ है गरुड़ पुराण जिसमें व्यक्ति के मृत्यु से संबंधित जानकारियां उपलब्ध है। इसके अलावा गरुड़ पुराण का पाठ व्यक्ति के मृत्यु के बाद पढ़ा जाता है।

इस धर्म ग्रंथ में इस बात की जानकारी मिलती है कि व्यक्ति की आत्मा इस लोक से परलोक कैसे पहुंचती है। इसके अलावा इस धर्म ग्रंथ में यह भी उल्लेख मिलता है कि जीवन में कैसे कर्म करने से मृत्यु बाद आत्मा को क्या हासिल होगा। आत्मा स्वर्ग में जाएगी या नरक भोगेगी या फिर उसे नया जन्म प्राप्त होगा। इन सारी बातों का लेखा-जोखा इस ग्रंथ में विस्तार पूर्वक किया गया है।

शायद आप यह जानकर हैरान रह जाएंगे कि जन्म-मरण के रहस्य को बताने वाला ग्रंथ स्त्री-पुरुष के संबंधों से जुड़े रहस्यों को भी बताता है। पुरुष हो या स्त्री दोनों ही यौन संबंधों को लेकर कैसी रुचि रखते हैं, कैसे-कैसे कर्म करते हैं उसके अनुसार अगले जन्म में उन्हें क्या हासिल होगा। गरुड़ पुराण की इन बातों को हम आपको विस्तार से बता रहे हैं।

नरक में भी यातना 

जो स्त्री अपने पति को छोड़कर किसी दूसरे पुरुष के साथ संबंध स्थापित करती है वह पाप की भागीदार बनती है। मरने के बाद ऐसी आत्मा को यमलोक की यातना सहनी पड़ती है। इतना ही नहीं वहां छिपकली, सांप या चमगादड़ के रूप में जन्म लेना पड़ता है।

बलात्कारी पुरुष

यदि कोई पुरुष किसी किशोरी कन्या का शारीरिक शोषण करता है तो मृत्यु के बाद उसकी आत्मा नरक में भयानक दण्ड भोगता है। यदि वह आत्मा दूसरा जन्म अजगर के रूप में होता है।

इसे भी पढ़ें: राहु जब होता है विपरीत, फकीर बन जाता है व्यक्ति, लाल किताब के अनुसार कर लें ये उपाय

मित्र की पत्नी से संबंध

अपने दोस्त को धोखा देकर उसकी पत्नी से संबंध बनाने को गरुड़ पुराण में महापापी के संज्ञा दी गई है। ऐसे व्यक्ति की आत्मा मरने के बाद गधे के रूप में जन्म मिलता है।

गुरु की पत्नी से संबंध

जो व्यक्ति अपने गुरु से शिक्षा ली और उनकी पत्नी से संबंध बनाने वाले को मृत्यु के बाद नरक जगह मिलता है। ऐसे व्यक्ति को दण्ड के रूप में बिलकुल कठोर दण्ड मिलता है। ऐसे चरित्र वाले व्यक्ति का अगला जन्म गिरगिट के रूप में मिलता है।

इसे भी पढ़ें: शनिदोष: अब शनि नहीं होंगे आप पर क्रूर, बस शनिवार को कर लें ये काम

महिला का अपहरण करने वाला

किसी भी महिला की मर्जी के खिलाफ उसका हरण या अहरण करने वाला गरुड़ पुराण के अनुसार महापापी कहा गया है। ऐसे पुरुष की आत्मा मरने के बाद परलोक में कष्ट भोगता है। ऐसे आदमी को ब्रह्मराक्षस के रूप में जन्म मिलता है। ब्रह्मराक्षस एक अदृश्य जीव होता है जो किसी को दिखता नहीं है।

स्त्री का अपमान करने वाला

किसी स्त्री के दामन पर कीचड़ उछालनेवाला व्यक्ति गरुड़ पुराण के अनुसार अगले जन्म में नपुंसक बनता है।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
garuda purana on such a relationship person becomes impotent

-Tags:#Garuda Purana
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo