Hari Bhoomi Logo
गुरुवार, सितम्बर 21, 2017  
Breaking News
Top

गणेश चतुर्थी कथा

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Aug 24 2017 1:06PM IST
 गणेश चतुर्थी कथा

प्रत्येक वर्ष भाद्रपद मास के शुक्ल चतुर्थी को हिन्दुओं का प्रमुख त्यौहार गणेश चतुर्थी मनाया जाता है। इस बार यह 25 अगस्त को यानि शुक्रवार को मनाया जाएगा।

यह व्रत करने से घर-परिवार में आ रही विपदा दूर होती है। कई दिनों से रुके मांगलिक कार्य संपन्न होते है और भगवान श्रीगणेश असीम सुखों की प्राप्ति कराते हैं। 

इसे भी पढ़ें: हर इच्छा पूरी करने के लिए अलग-अलग गणेश, जानिए आपके लिए कौनसा

इस दिन गणेश की कथा पढ़ने तथा सुनने का विशेष महत्व मन गया है। व्रत करने वालों को इस दिन यह कथा जरूर पढ़ना चाहिए। तभी व्रत का संपूर्ण फल मिलता है। 

पौराणिक कथा के अनुसार एक बार देवता कई विपदाओं में घिर गए थे। तब वह मदद मांगने भगवान शिव के पास आए। उस समय शिव के साथ कार्तिकेय तथा गणेश जी भी बैठे थे। 

इसे भी पढ़ें: गणेश चतुर्थी पर काम करेगा ये उपाय, पूरी होगी मनोकामना

देवताओं की बात सुनकर शिवजी ने कार्तिकेय व गणेश जी से पूछा कि तुममें से कौन देवताओं के कष्टों का निवारण कर सकता है। तब कार्तिकेय और गणेश जी दोनों ने ही स्वयं को इस कार्य के लिए सक्षम बताया। 

इस पर भगवान शिव ने दोनों की परीक्षा लेते हुए कहा कि तुम दोनों में से जो सबसे पहले पृथ्वी की परिक्रमा करके आएगा वही देवताओं की मदद करने जाएगा। 

भगवान शिव के मुख से यह वचन सुनते ही कार्तिकेय अपने वाहन मोर पर बैठकर पृथ्वी की परिक्रमा के लिए निकल गए। परंतु गणेश जी सोच में पड़ गए कि वह चूहे के ऊपर चढ़कर सारी पृथ्वी की परिक्रमा करेंगे तो इस कार्य को करने में बहुत समय लगेगा।

तभी उन्हें एक उपाय सूझा, गणेश अपने स्थान से उठे और अपने माता-पिता की सात बार परिक्रमा करके वापस अपने स्थान पर आकर बैठ गए। 

परिक्रमा करके लौटने पर कार्तिकेय स्वयं को विजेता बताने लगे। तब शिवजी ने श्रीगणेश से पृथ्वी की परिक्रमा ना करने का कारण पूछा। तो गणेश जी ने कहा कि माता-पिता के चरणों में ही सरे लोक हैं।

यह सुनकर भगवन शिव ने गणेश जी को देवताओं के संकट को दूर करने की आज्ञा दी। इस तरह भागवान शिव ने गणेश को आशीर्वाद दिया कि चतुर्थी के दिन जो भी तुम्हारा पूजन करेगा और रात में चन्द्रमा को अर्घ्य देगा उसके दैहिक, दैविक तथा भौतिक तीनों ताप दूर होंगे। साथ ही इस दिन व्रत करने वालों के सभी प्रकार के दुख दूर होंगे।

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
fasting of ganesh chaturthi disaster in family is removed

-Tags:#Ganesh Chaturthi#Ganesh Pooja#Ganesh Chaturthi 2017#Lord Ganesha
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo