Hari Bhoomi Logo
शनिवार, सितम्बर 23, 2017  
Breaking News
Top

अगर घर के दरवाजे इस दिशा में खुलते हैं तो रोज होंगे झगड़े

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Sep 11 2017 4:25PM IST
अगर घर के दरवाजे इस दिशा में खुलते हैं तो रोज होंगे झगड़े

पांच तत्वों से मानव शरीर का निर्माण होता है। इनमें से किसी भी एक तत्व की कमी होने पर मृत्यु हो सकती है। इसी प्रकार भवन निर्माण में वास्तु शास्त्र के अनुसार इन पांच तत्वों का संतुलन नहीं होने पर उस भवन में रहने वाले के ऊपर उलटा असर पड़ता है। इन पांच वास्तु दोष उपाय से परिवार की कलह दूर कर सकते हैं।

पश्चिम दिशा का दोष-

यदि घर का द्वार पश्चिम दिशा में है तो निश्चित रूप से वास्तु दोष लाता है। इसे दूर करने के लिए रविवार को सूर्योदय से पहले दरवाजे के सामने  नारियल के साथ कुछ सिक्के रख कर दबा दें। ऐसा करने से द्वार दोष दूर होता है।

इसे भी पढ़ें: ये पांच आदतें आपको बना देगी कंगाल

पूर्व दिशा का दोष-

पूर्व दिशा में घर का दरवाजा होने से कर्ज अधिक हो जाता है। इस दोष को दूर करने के लिए सोमवार को रुद्राक्ष घर के दरवाजे के बीच लटका दें। ऐसा करने से घर के दरवाजे से संबंधित वास्तु दोष दूर होते हैं और सरे काम सफल होते हैं।

दक्षिण दिशा का दोष-

दक्षिण दिशा में घर का मुख्य द्वार शुभ नहीं है। इसके कारण घर में लगातार परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इस दोष को दूर करने के लिए   बुधवार को नींबू या सात कौडियां धागे में बांधकर लटका देनी चाहिए।

इसे भी पढ़ें: आपको कंगाल कर सकते हैं ये 5 वास्तु दोष

उत्तर दिशा का दोष-

वास्तु के अनुसार उत्तर का दरवाजा हमेशा लाभकारी होता है। यदि द्वार दोष उत्पन्न होता है तो भगवान विष्णु की आराधना करें। पीले फूल की माला दरवाजे पर लगाएं। 

वास्तु दोष को दूर करने के लिए काले तिल का हवन करना लाभकारी होता है। ऐसा करने से घर के सभी दोष दूर होते है और परिवार की सभी समस्या दूर होती है। 

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo