Breaking News
Top

धनतेरस 2017: शुभ मुहूर्त

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Oct 16 2017 7:08PM IST
धनतेरस 2017: शुभ मुहूर्त

Dhanteras 2017 : Is Shubh Muhurt Me Kare Pooja

धनतेरस शुभ मुहूर्त  धनतेरस के दिन धन्वन्तरी देवता, माता लक्ष्मी और धन के देवता कुबेर की पूजा की जाती है। 

धनतेरस के दिन कुबेर के अलावा देवता यम की पूजा का भी विधान है। धनतेरस के दिन यम की पूजा के विषय में मान्यता है कि इनकी पूजा से घर में असमय मौत का भय नहीं रहता है।

इसे भी पढ़ें: हथेली की भाग्य रेखा पर है ये निशान, तो जरूर बनेंगे धनवान

शुभ मुहूर्त

तारीख- 17 अक्टूबर

दिन- मंगलवार

खरीदारी का शुभ मुहूर्त- शाम  07:20 से 08:17 के बीच

ये खरीदना है अशुभ  

1.शीशा खरीदना ज्योतिष के अनुसार अशुभ माना गया है। इसका कारण है की शीशा का संबंध राहु से है इसलिए शीशे से बनी वस्तुओं की खरीदारी से बचना चाहिए। अगर शीशा खरीदना बाध्यता है तो ध्यान रखना चाहिए कि धुंधला और पारदर्शी ना हो।

2. अल्युमिनियम के खरीदारी भी ज्योतिषियों ने खराब माना है। क्योकि सभी शुभ ग्रह इस धातु से प्रभावित होते हैं। इसके अलावे वास्तु के दृष्टि से भी अल्युमिनियम को अच्छा नहीं माना गया है।

3 धनतेरस के दिन किचन के काम में आने वाली नुकीली वस्तुएं जैसे चाकू और लोहे की वस्तुएं और बर्तन नहीं खरीदना चाहिए।

इसलिए करते हैं खरीदारी 

धनतेरस में खरीदारी की परंपरा और मान्यता दोनों ही हैं। इस दिन मान्यता है कि जैसे माता लक्ष्मी समुद्र मंथन से उत्त्पन्न हुई थीं ठीक उसी प्रकार भगवान धन्वंतरी भी समुद्र मंथन से उत्पन्न हुए थी। जब धन्वंतरी देव समुद्र मंथन से उत्पन्न हुए थे तब उनके हाथ में अमृत से  भरा कलश था। इसलिए इस दिन बर्तन खरीदने की परंपरा सदियों से चली आ रही है।

धनतेरस के दिन आमतौर सोने-चांदी बर्तन, सिक्के और आभूषण खरीदने की परंपरा रही है। सोना खरीदना जहां सौन्दर्य में वृद्धि करता है वहीं सिंचित धन के रूप में भी काम आता है। धनतेरस के दिन सोने-चांदी की खरीदारी को कुछ लोग शगुन भी मानते हैं। धनतेरस के दिन खरीदारी से जुड़ी एक अन्य मान्यता यह भी है कि इस दिन खरीदारी करने से धन तेरह गुना बढ़ जाता है।

 
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo