Breaking News
Top

दशमाता व्रत 2018: ऐसे करें व्रत और पूजा, कभी नहीं आएगी घर में 'दरिद्रता'

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Mar 12 2018 10:29AM IST
दशमाता व्रत 2018: ऐसे करें व्रत और पूजा, कभी नहीं आएगी घर में 'दरिद्रता'

शास्त्रों में दशमाता व्रत का अत्यधिक महत्व और विधान है। शास्त्रीय मान्यता के अनुसार दशमाता व्रत और पूजन करने मनुष्य की विपरीत भी परिस्थिति भी अनुकूल हो जाती है। दशमाता व्रत चैत्र कृष्णपक्ष दशमी को किया जाता है। इस बार दशमाता व्रत पूजा तथा व्रत 12 मार्च 2018 (सोमवार) को है। 

चैत्र कृष्ण की दशमी के दिन महिलाएं दशामाता का व्रत रखतीं हैं। दशमाता व्रत मुख्यरूप से घर की दशा ठीक होने के लिए किया जाता है। दशमाता व्रत के दिन महिलाएंएं कच्चे सूत का डोरा लाकर डोरे की कहानी कहती हैं।

इसे भी पढ़ें: शनिश्चरी अमावस्या 2018: इस दिन बन रहा है ये अद्भुत संयोग, ऐसे मिलेगी शनि-पीड़ा से मुक्ति

दशमाता पूजन में पीपल की पूजा कर 10 बार पीपल की परिक्रमा करते हुए उस पर सूत लपेटती हैं और डोरे में 10 गांठ लगाकर गले में बांधकर रखती हैं। इसलिए जो भक्त चैत्र कृष्ण दशमी तिथि को दशामाता का व्रत और पूजन करते हैं, उनकी दरिद्रता घर से दूर चली जाती है। साथ ही घर-परिवार खुशहाल रहता है।

दशमाता व्रत और पूजा विधि 

  • दशमाता व्रत के दिन सुहागिन महिलाएं यह व्रत अपने घर की दशा सुधारने के लिए करती हैं।  
  • इस दिन कच्चे सूत का 10 तार का डोरा से पीपल की पूजा करती हैं।  
  • सुहागिन महिलाएं इस डोरे की पूजा के बाद पूजनस्थल पर नल-दमयंती की कथा सुनती हैं।  
  • पूजा और कथा के बाद सुहागिन महिलाएं इस डोरे को अपने गले में बंधती हैं।  
  • इसके बाद महिलाएं अपने घरों पर हल्दी और कुमकुम के छापे लगाती हैं।  

इसे भी पढ़ें: पापमोचनी एकादशी 2018: पापमोचनी एकादशी व्रत कथा

  • इस दिन दिन बहर में एक ही बार अन्न ग्रहण करती हैं। जिसमें एक ही प्रकार के अन्न के प्रयोग का विधान है।  
  • भोजन में नमक का प्रयोग पूर्ण रूप से वर्जित माना जाता है। 
  • इस दिन प्रयोग किए जाने वाले अन्न में गेहूं का प्रयोग विशेष तौर पर किया जाता है। 
  • इस दिन घर की साफ-सफाई के लिए झाडू खरीदने का विधान है। 
  • दशमाता व्रत जीवनभर किया जाता है। इस व्रत का उद्यापन नहीं किया जाता है।   
  •  

ADS

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )

ADS

ADS

मुख्य खबरें

ADS

ADS

ADS

ADS

Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo